काठमांडू: नेपाल के पूर्व उप प्रधानमंत्री एवं वरिष्ठ कम्युनिस्ट नेता भारत मोहन अधिकारी का निधन हो गया. वह 83 वर्ष के थे. पार्टी से जुड़े सूत्रों ने बताया कि अधिकारी का काठमांडू के हम्स अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां शनिवार को उनका निधन हो गया. छाती और फेफड़ों से जुड़ी समस्या के चलते उन्हें तीन सप्ताह पहले यहां भर्ती कराया गया था. नेपाल के सरकार ने उनके निधन पर शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है.

विदेश नीति: भारत- नेपाल संबंधों में फिर से आई मिठास का गवाह रहा साल 2018

पशुपति आर्यघाट पर होगा अंतिम संस्कार
इससे पहले शनिवार सुबह अस्पताल ने एक बयान जारी करके कहा था कि अधिकारी के कई अंग काम करना बंद कर रहे हैं. अधिकारी श्रम और परिवहन प्रबंधन मंत्रालय, कानून मंत्रालय, न्याय एवं संसदीय मंत्रालय का नेतृत्व भी कर चुके हैं. अधिकारी गठबंधन सरकार में उप प्रधानमंत्री थे, जिन्हें 2005 में तत्कालीन राजा ज्ञानेंद्र शाह ने तख्तापलट के जरिए सत्ता से बाहर कर दिया था. महोत्तरी जिले के भवरपूर्ण वीडीसी में 1936 में जन्मे अधिकारी छात्र जीवन में ही कम्युनिस्ट राजनीति में शामिल हो गए थे, हालांकि वह पूर्णकालिक कैडर नहीं थे. काठमांडू के पशुपति आर्यघाट में रविवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. अधिकारी के परिवार में पत्नी और तीन बेटियां हैं. (इनपुट एजेंसी)

ब्राजील: जेल में बंद पूर्व राष्ट्रपति को पोते के अंतिम संस्कार में शामिल होने की मिली अनुमति