नई दिल्ली: पूरी दुनिया खतरनाक कोरोना वायरस से सहमी हुई है. चीन से शुरू हुए इस वायरस के चलते दुनियाभर में के कम 15 हजार लोगों की जानें जा चुकी हैं वहीं अभी तक इस वायरस का कोई इलाज सामने नहीं आया है. ऐसे में जहां दुनिया अभी इस वायरस के संकट से निपट नहीं पाई है वहीं और समस्या सामने आ रही है. हम बात कर रहे हैं हंता वायरस की. Also Read - लॉकडाउन के दौरान 'गंभीर चूक', केंद्र ने दिल्ली सरकार के दो अधिकारियों को किया निलंबित

दरअसल चीन के युन्नान प्रांत में एक व्‍यक्ति की सोमवार को हंता वायरस से मौत हो गई. पीड़‍ित व्‍यक्ति काम करने के लिए बस से शाडोंग प्रांत लौट रहा था. उसे हंता वायरस से पॉजिटिव पाया गया था. बस में सवार 32 अन्‍य लोगों की भी जांच की गई है. चीन के सरकारी समाचार पत्र ग्‍लोबल टाइम्‍स के इस घटना की जानकारी देने के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है. Also Read - बोल्ड तस्वीरें देख मचल जाते हैं फैंस, कोरोना संकट के समय गरीबों में दूध बांट रही है ये एक्ट्रेस

क्या बला है ये हंता वायरस
रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के अनुसार, हंतावायरस वायरसों की एक फैमिली है जो मुख्य रूप से चूहे द्वारा फैलता है और लोगों में विभिन्न रोगों का कारण बन सकता है. यह हंता वायरस पल्मोनरी सिंड्रोम (HPS) और हेमोरेजिक फीवर के साथ रीनल सिंड्रोम (HFRS) पैदा कर सकता है. हालांकि यह बीमारी हवा में फैलने वाली नहीं है. Also Read - COVID-19: सीमा सील होने के बावजूद पैदल यात्रा जारी, घर जाने की लगी होड़