इस्लामाबाद: पाकिस्तान के विदेश विभाग ने रविवार को जारी बयान में कहा कि जम्मू-कश्मीर के निवासियों के लिए वीजा नीति में कोई बदलाव नहीं किया गया है. पाकिस्तान के विदेश विभाग की यह प्रतिक्रिया मीडिया में आई उन खबरों के बाद आई है जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के निवासियों के लिए वीजा नीति में बदलाव किया है.

सीएए विरोध के चलते पाकिस्तान को भारत से खतरा बढ़ा : इमरान खान

बयान में कहा गया, ‘‘ इस संबंध में आई खबरें आधारहीन और असत्य हैं. पाकिस्तान उच्चायोग सरकार की नीति और भारत-पाकिस्तान के बीच हुए द्विपक्षीय समझौतों के अनुरूप जम्मू-कश्मीर के निवासियों को वीजा देना जारी रखेगा. इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है.’’

पाकिस्तान ने भारत के दावों को बताया झूठा, कहा-मुल्क में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार के सभी आरोप हैं बेबुनियाद

विदेश विभाग ने यह भी कहा कि नयी दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग क्षेत्र के निवासियों को वीजा जारी करने के दौरान पांच अगस्त को भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने और अनुच्छेद-370 हटाने के फैसले के बाद उत्पन्न स्थिति को भी मद्देनजर रखेगा.

लेबल बदलकर दूसरे देशों के जरिए पाकिस्तान पहुंच रहे हैं भारतीय सामान