लंदन. विदेश मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रमंडल देशों के शासनाध्यक्षों के सम्मेलन (चोगम) में अपने पाकिस्तानी समकक्ष शाहिद खाकान अब्बासी से कल गुरुवार को मुलाकात नहीं की और आज ( शुक्रवार) को भी उनके बीच मुलाकात होने की कोई संभावना नहीं है. बता दें, कि पीएम मोदी की यात्रा से पहले विदेश मंत्रालय ने पिछले हफ्ते कहा था कि सम्मेलन में मोदी और अब्बासी की द्विपक्षीय वार्ता होने की संभावना नहीं है. वहीं, चोगम में पीएम मोदी ने पड़ोसी देश बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के अलाव कई देशों के प्रमुखों से द्विपक्षीय मुलाकातें की हैं. इनमें सेशल्स के राष्ट्रपति डैनी फाउरे और मॉरीशस के प्रमुख प्रविंद कुमार जगनाथ अन्य कई नेता शामिल हैं.

मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक सवाल के जवाब में कहा, ”पाकिस्तानी प्रधानमंत्री से कोई मुलाकात नहीं हुई. किसी मुलाकात की संभावना भी नहीं है.” अधिकारियों ने पहले संकेत दिए थे कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी से कोई मुलाकात तय नहीं है और न ही इसका अनुरोध किया गया था. बाद में उन्होंने पुष्टि की कि दोनों नेताओं के बीच कोई बातचीत नहीं हुई.

वहीं, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कुमार ने ट्वीट किया,” पड़ोस पहले. एक पड़ोसी और एक करीबी दोस्त से जुड़ाव, पीएम नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के बीच चोगम 2018 के इतर द्विपक्षीय हित के विभिन्न मुद्दों पर विचारों का आदान – प्रदान अच्छा रहा.

भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों ने पिछली बार दिसंबर 2015 में मुलाकात की थी. यह मुलाकात उस वक्त हुई थी जब पहले से तय कार्यक्रम के बिना ही मोदी अफगानिस्तान से लौटते वक्त लाहौर में विमान से उतरे और तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पोती की शादी में शिरकत की. लेकिन जनवरी 2016 में पठानकोट आतंकवादी हमले और फिर उसी साल सितंबर में जम्मू- कश्मीर के उरी में आर्मी के एक शिविर पर हुए आतंकवादी हमले के बाद दोनों देशों के रिश्तों में तनाव बढ़ गया. (इनपुट एजेंसी)