सोल : अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने सिंगापुर में हुए अमेरिका-उत्तर कोरिया शिखर सम्मेलन के बाद साझा बयान में परमाणु निरस्त्रीकरण के बारे में जानकारियों के अभाव को लेकर हुई आलोचना के बाद मीडिया को दिए एक बयान में कहा कि किम जोंग उन को पता है कि परमाणु निरस्त्रीकरण ‘जल्द से जल्द’ होना चाहिए. इसी के साथ उन्होंने उत्तर कोरिया को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक यह प्रक्रिया पूरी नहीं होगी तब तक प्योंगयांग को पाबंदियों से कोई राहत नहीं मिलेगी.

माइक पोम्पियो ने कहा कि उत्तर कोरिया के पूरे सत्यापित किए जा सकने वाले और अपरिवर्तनीय परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया के प्रति वाशिंगटन प्रतिबद्ध बना हुआ है. इससे पहले सिंगापुर में हुए अमेरिका – उत्तर कोरिया शिखर सम्मेलन के बाद जो साझा बयान जारी किया गया था उसकी इस बात को लेकर आलोचना हुई थी कि उसमें इस महत्वपूर्ण मुद्दे को लेकर जानकारियों का अभाव था.

उन्होंने कहा, हमारा मानना है कि किम जोंग उन यह समझते हैं कि इसे जल्द से जल्द करने करने की जरूरत है. वाशिंगटन के शीर्ष राजनयिक मंगलवार को हुई ऐतिहासिक वार्ता के बारे में दक्षिण कोरिया तथा जापान के अपने समकक्षों को जानकारी देने के लिए सोल में हैं. शिखर वार्ता के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अब दुनिया चैन से सो सकती है. इन बैठकों के बाद पोम्पियो चीन के अपने समकक्ष से मिलने बीजिंग जाएंगे. (इनपुट एजेंसी )