इस्लामाबाद: पाकिस्तान में आम चुनाव की घोषणा हो चुकी है. 25 जुलाई को चुनाव होगा. वर्तमान सरकार का कार्यकाल 31 मई को पूरा होगा. कार्यवाहक सरकार एक जून से और नई सरकार के गठन तक कामकाज संभालेगी. पाकिस्तान में आम चुनाव से पहले तैयार की गई मतदाताओं की नई सूची के मुताबिक , देश में गैर मुस्लिम मतदाताओं की संख्या 2018 में बढ़कर 36.3 लाख हो गई है और धार्मिक अल्पसंख्यक मतदाताओं में हिंदुओं की संख्या सबसे ज्यादा है. इस समुदाय के 17.7 लाख मतदाता हैं. Also Read - पाकिस्तान के पूर्व PM जफरुल्लाह खान जमाली का 76 साल की उम्र में रावलपिंडी में निधन

Also Read - पाकिस्तानी ऑलराउंडर ने कहा-सेलेक्टर्स ही बता सकते हैं कि मुझे टीम से बाहर क्यों किया

17.7 लाख हिन्दू मतदाता Also Read - पाकिस्तानी सैनिकों ने Ceasefire Violation किया, LoC पर BSF अफसर शहीद

डॉन अखबार ने सरकारी कागजात के हवाले से रिपोर्ट दी है कि पिछले पांच बरस में गैर मुस्लिम मतदाताओं ने 30 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की है. 2018 में अल्पसंख्यक मतदाताओं की संख्या बढ़कर 36.3 लाख हो गई है. यह 2013 के आम चुनाव में 27.7 लाख थी. रिपोर्ट के मुताबिक 2013 के चुनाव के पहले हिन्दुओं मतदाताओं की संख्या करीब 14 लाख थी जो अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों की तुलना में सबसे ज्यादा थी. हिन्दू मतदाताओं की संख्या अब 17.7 लाख है. रिपोर्ट कहती है कि हिन्दू मतदाता अल्पसंख्यकों में सबसे अधिक हैं.

पाकिस्तान में आम चुनाव की घोषणा, इस दिन नई हुकूमत चुनेगी आवाम

16.4 लाख ईसाई मतदाता

अधिकतर हिन्दू मतदाता सिंध प्रांत में रहते हैं जहां दो जिलों में 40 प्रतिशत से ज्यादा मतदाता हिन्दू हैं. ईसाई गैर-मुस्लिम मतदाताओं का दूसरा सबसे बड़ा समूह है. इस समुदाय के 16.4 लाख मतदाता हैं. 10 लाख से ज्यादा ईसाई मतदाता पंजाब में हैं और इस समुदाय के दो लाख से ज्यादा मतदाता सिंध में रहते हैं. सिख मतदाताओं की संख्या 8,852 है. सबसे ज्यादा सिख मतदाता खैबर पख्तूनख्वा में हैं. इसके बाद सिंध और पंजाब में सिख मतदाता रहते हैं. अहमदिया समुदाय के मतदाताओं की संख्या 167,505 है.

10.5 करोड़ कुल मतदाता

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल – एन) नीत मौजूदा सरकार 31 मई को अपना कार्यकाल पूरा कर रही है. इसके बाद कार्यवाहक सरकार की देखरेख में आम चुनाव होंगे. पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव प्रस्तावित हैं. पाकिस्तानी चुनाव आयोग की वेबसाइट पर मुहैया आंकड़ों के मुताबिक, पाकिस्तान के छह प्रांतों में 10.5 करोड़ मतदाता हैं जिनमें से 5.92 करोड़ पुरुष और 4.67 करोड़ महिलाएं हैं. हालांकि पाकिस्तान की

त्रिकोणीय मुकाबला

पाकिस्तान में प्रधानमंत्री शाहीद खकान अब्बासी की अगुवाई वाली पीएमएल-एन, क्रिकेटर से सियासतदान बने इमरान खान की पीटीआई और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की पीपीपी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है.