सियोलः उत्तर कोरिया ने शनिवार को कहा कि परमाणु वार्ता फिर से तभी शुरू होगी जब अमेरिका उनकी मांगों को पूरी तरह से स्वीकार कर लेगा. उत्तर कोरिया ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का पत्र मिला था जिसमें नेता किम जोंग उन को जन्मदिन की बधाई दी गई है.

अमेरिकी राष्ट्रपति और किम के बीच जून 2018 से तीन बैठकें हो चुकी है लेकिन गत फरवरी में हुई हनोई बैठक के बाद से वार्ता को लेकर काफी हद तक गतिरोध बना हुआ है. उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय के सलाहकार किम क्ये ग्वान ने कहा कि ट्रंप का बधाई पत्र अमेरिका से उत्तर कोरिया पहुंचा है.

सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए के अनुसार ग्वान ने एक बयान में कहा, ‘‘जैसा दुनिया ने माना है, यह सच है कि (किम जोंग उन) और राष्ट्रपति ट्रंप के बीच व्यक्तिगत संबंध खराब नहीं हैं.’’ सलाहकार ने कहा, ‘‘हमें अमेरिका द्वारा धोखा दिया जा रहा है, डेढ़ साल से अधिक समय तक हमें बातचीत में व्यस्त रखा गया और हमारे लिए यह समय व्यर्थ हो गया.’’

परमाणु वार्ता पर उन्होंने कहा कि वार्ता फिर से तभी शुरू हो सकेगी जब उत्तर कोरिया द्वारा उठाये गये मुद्दों पर वाशिंगटन की ‘‘पूर्ण सहमति’’ होगी. उत्तर कोरिया ने कभी भी आधिकारिक रूप से किम की उम्र या जन्मतिथि की पुष्टि नहीं की है लेकिन आठ जनवरी, 2014 को प्योंगयांग में एक प्रदर्शनी मैच से पहले बास्केटबॉल स्टार डेनिस रोडमैन ने उन्हें ‘‘हैप्पी बर्थडे’’ कहा था.