लंदन. ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) परिसर के स्टाफ और छात्रों पर 200 कैमरे नजर रखते हैं, जिसके लिए विश्वविद्यालय को सम्मानित भी किया गया है. सर्विलांस कैमरा कमिश्नर ने गुरुवार को एक रिपोर्ट में बताया कि विश्वविद्यालय में 1990 में यहां केवल 6 कैमरे लगे थे. अपराध को रोकने और संदिग्धों की पहचान व कर्मचारियों, छात्रों और आगंतुकों को सुरक्षित वातावरण देने के लिए विश्वविद्यालय ने अपने कैमरा सिस्टम का विस्तार किया. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, सर्विलांस कैमरा कोड ऑफ प्रैक्टिस के दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए विश्वविद्यालय को सम्मानित भी किया गया है. इस कोड का उद्देश्य सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के गोपनीयता के अधिकार का ध्यान रखते हुए साथ ही कैमरों की जरूरत का भी ध्यान रखना है.

ब्रिटेन के ऑक्सफोर्डशायर स्थित इस यूनिवर्सिटी की लोकप्रियता इतनी है कि विश्वविद्यालय परिसर में छात्रों के अलावा दुनियाभर के पर्यटक भी घूमने आते हैं. सालोंभर यहां आने वाले पर्यटक, छात्र और उनके अभिभावक और यूनिवर्सिटी में काम करने वाले करीब 13 हजार कर्मचारियों की सुरक्षा को देखते हुए ही, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रशासन सीसीटीवी कैमरा आधारित सिक्योरिटी-सिस्टम पर विशेष रूप से ध्यान देता है. सर्विलांस कैमरा कमिश्नर की वेबसाइट के मुताबिक, यूनिवर्सिटी में सीसीटीवी सर्विलांस के लिए सुरक्षा के ऊंचे मानकों का सख्ती से पालन किया जाता है. यूनिवर्सिटी की सुरक्षा व्यवस्था हमेशा दुरुस्त रहे, इसके लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन भी हर वक्त चौकस रहता है.

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के बारे में
– टाइम्स हायर एजुकेशन की वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रेटिंग में ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय को लगातार 3 वर्षों तक- 2017, 18 और 2019 के लिए दुनिया की सर्वोत्तम यूनिवर्सिटी के खिताब से नवाजा गया है.

– यूनिवर्सिटी में लगभग 24 हजार छात्र पढ़ते हैं, जिसमें आधे छात्र अंडरग्रेजुएट तो आधे पोस्टग्रेजुएट कक्षाओं के हैं. यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले कुल छात्रों में से 43 प्रतिशत छात्र विदेशी हैं. यानी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में लगभग 10 हजार छात्र ऐसे हैं जो दुनिया के अन्य देशों से यहां पढ़ने आए हैं.

– ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला लेना आसान नहीं है. इस यूनिवर्सिटी में अंडरग्रेजुएट कोर्स के लिए कुल 3200 स्थान हैं. इस यूनिवर्सिटी का क्रेज ऐसा है कि वर्ष 2017 में अंडरग्रेजुएट कोर्स में दाखिले के लिए 20 हजार से ज्यादा छात्रों ने आवेदन किया था. यानी कि 1 सीट के लिए कुल 6 आवेदन आए थे.

– इस यूनिवर्सिटी में 350 से ज्यादा कोर्स उपलब्ध हैं, जिसमें आप ग्रेजुएशन कर सकते हैं.