Omicron Update: पाकिस्तान ने कारोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट के खतरे के मद्देनजर सोमवार को कुछ शर्तों को छोड़कर 15 देशों से यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया. इसके साथ-साथ 13 अन्य देशों को लेकर यात्रा प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया. कोरोना रोधी उपायों के लिए शीर्ष निकाय नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर (एनसीओसी) ने हवाई यात्रा की श्रेणी निर्धारित करने के संबंध में दुनिया में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की. एनसीओसी के एक बयान के अनुसार, बैठक में विभिन्न देशों के यात्रियों के लिए स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के आधार पर संशोधित श्रेणियां बनाई गई हैं. विभिन्न देशों को तीन श्रेणियों ए, बी और सी में रखा गया है.Also Read - Corona Update: देशभर में पिछले 24 घंटे में 2.50 लाख से ज्यादा नए मामले, 3.47 लाख ने संक्रमण को मात दी

श्रेणी ‘सी’ में 15 देश शामिल हैं – क्रोएशिया, हंगरी, नीदरलैंड, यूक्रेन, आयरलैंड, स्लोवेनिया, वियतनाम, पोलैंड, दक्षिण अफ्रीका, मोजाम्बिक, लेसोथो, इस्वातिनी, बोत्सवाना, जिम्बाब्वे और नामीबिया. बयान के मुताबिक श्रेणी ‘सी’ के देशों से यात्रा पर पूरी तरह पाबंदी होगी, लेकिन समिति से छूट प्रमाण पत्र लेने के बाद जरूरी यात्राओं की अनुमति दी जा सकेगी. NCOC ने जर्मनी, त्रिनिदाद और टोबैगो, आजरबैजान, मेक्सिको, श्रीलंका, रूस, अमेरिका, ब्रिटेन, थाईलैंड, फ्रांस, ऑस्ट्रिया, अफगानिस्तान और तुर्की को श्रेणी ‘बी’ में रखा है. इन देशों से आने वाले यात्रियों का पूर्ण टीकाकरण होना चाहिए. यात्रियों को यात्रा से 48 घंटे पहले तक का ‘नेगेटिव रिपोर्ट’ भी प्रस्तुत करना होगा. Also Read - Omicron in India: विशेषज्ञ बोले - देश में जल्द खत्म होगी तीसरी लहर, साथ ही दी यह हिदायत

श्रेणी ‘सी’ और ‘बी’ में शामिल नहीं किए गए अन्य सभी देशों को श्रेणी ‘ए’ में रखा गया है. सभी यात्रियों का पूर्ण टीकाकरण होना चाहिए. सभी पाकिस्तानी बिना छूट के श्रेणी ‘सी’ देशों से 15 दिसंबर तक यात्रा कर सकते हैं, लेकिन आगमन पर जांच प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य होगा. Also Read - Vaccine नहीं लगवाने वाले लोग कोरोना की तीसरी लहर में ज्यादा प्रभावित, मृत्यु भी ज्यादा

पाकिस्तान में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 336 नए मामले आए और 10 लोगों की मौत हुई. राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय के मुताबिक, देश में संक्रमण के अब तक 1,287,161 मामले आ चुके हैं और 28,777 लोगों की मौत हुई है. अब तक 1,246,464 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 862 मरीज उपचाराधीन हैं. पाकिस्तान में 5.2 करोड़ लोगों का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है, जबकि 8.2 करोड़ लोगों का आंशिक टीकाकरण हुआ है.

(इनपुट: भाषा)