सिंगापुर: सिंगापुर ने एक ई-कॉमर्स वेबसाइट पर इंडोनेशियाई घरेलू सहायिकाओं को बिक्री के लिए पेश करने का विज्ञापन आने पर एक रोजगार एजेंसी को आरोपी बनाया है. श्रम मंत्रालय ने यह जानकारी दी. Also Read - Flying Electric Taxi: 2023 से शुरू हो जाएगी Flying Car Service, उड़ान के लिए जानिये कितने रुपये करने होंगे खर्च

सिंगापुर में करीब-करीब 2,50,000 घरेलू सहायिकाएं हैं जो ऊंची तनख्वाह कमाने के लिए मुख्यत: इंडोनेशिया, फिलीपीन्‍स और म्यामां के निर्धन क्षेत्रों से इस समृद्ध शहरी राज्य में आयी हुई हैं. वैसे तो कड़े नियम वाले सिंगापुर में इंडोनेशियाई घरेलू सहायिकाओं के लिए स्थिति मलेशिया और मध्य पूर्व के अन्य क्षेत्रों की तुलना में बेहतर समझी जाती है लेकिन ऑनलाइन मार्केटिंग साइट केरोउसेल पर इस इश्तहार ने इस मुद्दे पर तनाव पैदा कर दिया है. Also Read - ' Asians of the Year' सम्‍मान के लिए चुने गए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के अदार पूनावाला

‘‘मेड डॉट रिक्रूटमेंट’’ यूजर नाम से पोस्ट किये गये इश्तहार में इंडोनेशिया की कई घरेलू सहायिकाओं की सेवाओं की पेशकश की गयी है लेकिन कुछ इश्तहारों में संकेत किया गया है कि घरेलू सहायिकाएं पहले ही ‘बिक’ चुकी हैं. इस इश्तहार से इंडोनेशिया में आक्रोश फूट पड़ा है. एनजीओ माइग्रेंट केयर ने इसे ‘अनुचित और अपमानजनक’ करार दिया है. इश्तहार बाद में हटा लिया गया. Also Read - Happy Diwali 2020: भारत ही नहीं दुनिया के कई देशों में धूमधाम से मनाई जाती है दिवाली, जानिए

श्रम मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने एसआरसी इंटरनेशनल रिक्रूटमेंट और उसके कर्मचारियों पर ‘असंवेदनशील इश्तहार’ प्रकाशित करने को लेकर 243 आरोप लगाए हैं. पिछले महीने इस एजेंसी का लाइसेंस निलंबित कर दिया गया था. मंत्रालय ने कहा कि वह उम्मीद करता है कि रोजगार एजेंसी अपनी सेवाओं का विपणन करते समय संवेदनशीलता का ख्याल रखेंगे.