इस्लामाबाद: पाकिस्तान की 50 प्रतिशत से अधिक आबादी मोटापे से ग्रस्त है और लोगों को मोटापे के कारण घातक बीमारियों का खतरा है. हालिया अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ है. द न्यूज इंटरनेशनल ने रविवार को बताया कि पाकिस्तान हेल्थ रिसर्च काउंसिल के अध्ययन में कहा गया है कि देश में मोटे बच्चों की संख्या भी बढ़ती जा रही है. Also Read - विदेश मंत्रालय की पाक को दो टूक, 'जम्मू-कश्मीर भारत का अटूट हिस्सा, कैसा भी सवाल उठाने से हकीकत नहीं बदलती'

अर्ल्ड ओबेसिटी फाउंडेशन द्वारा प्रकाशित एटलस ऑफ चाइल्डहुड ओबेसिटी की एक रिपोर्ट के अनुसार, 2030 तक पाकिस्तान में मोटापे से ग्रस्त बच्चों की संख्या 50 लाख को पार करने की आशंका जताई गई है. Also Read - पाकिस्तान में कोरोना वैक्सीन न लगवाने वालों के सिम कार्ड ब्लॉक होंगे, सरकार का फैसला

आंकड़ों के मुताबिक, 5-19 साल के बीच के देश के 5,412,457 बच्चे मोटे होंगे. Also Read - पाकिस्तान में ढहाई जा रही थी हिंदू धर्मशाला, सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाकर कहा- इसे संरक्षित धरोहर होना चाहिए

2030 में मोटापे के साथ जीने वाले 10 लाख से अधिक स्कूली बच्चों और युवाओं की सूची में शामिल देशों की सूची में चीन और अमेरिका के शीर्ष पर रहने के साथ पाकिस्तान नौवें स्थान पर रहा.

(इनपुट आईएएनएस)