इस्लामाबाद: पूर्व क्रिकेटर और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्दू शनिवार को पाकिस्तान के इस्लामाबाद शहर में इमरान खान के पीएम पद की शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए. इस दौरान वहां पीओके के राष्ट्रपति के बगल में बैठने और पाकिस्तान आर्मी के चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा से गले मिलने को लेकर विवादों के बीच सिद्दू ने कहा, ”आज सुबह जनरल बाजवा साहब आए और उन्होंने ने मुझे गले लगाया और कहा, ” हम शांति चाहते हैं” इसलिए हमें खूनखराबे को छोड़कर शांति की ओर आगे बढ़ना चाहिए. Also Read - शरीफ के बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी भी जेल में बीमार पड़े

Also Read - इमरान खान इतना नहीं जानते कि अंतरराष्ट्रीय संबंधों के लिए कैसे बर्ताव किया जाता है : विदेश मंत्रालय

Also Read - पुलवामा जैसा हमला हो सकता है, छिड़ सकता है भारत-पाक युद्ध: इमरान खान

पाकिस्तान-भारत शांति प्रक्रिया के लिए बेहतर साबित होगा इमरान खान का पीएम बनना: नवजोत सिंह सिद्धू

सिद्धू ने शनिवार को आशा जताई कि उनके मित्र इमरान खान का पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनना पाकिस्तान-भारत शांति प्रक्रिया के लिए बेहतर साबित होगा. सिद्दू ने कहा, ” मैं एक मोहब्बत का पैगाम हिंदुस्तान से लाया. जितनी मोहब्बत मैं लेकर आया था, उससे 100 गुना ज्यादा मोहब्बत मैं वापस लेकर जा रहा हूं. जो वापस आई है, वो सूद समेत है.”

पंजाब के मंत्री सिद्दू ने कहा कि पाकिस्तान आर्मी के चीफ बाजवा ने मुझसे कहा” हम गुरु नानक देव के 550वें जन्मदिवस पर करतारपुर रूट खोलने के लिए सोच रहे थे. पूर्व क्रिकेटर से राजनीति में पारी खेल रहे सिद्दू ने कहा, ” ये हमारी ड्यूटी है कि हम पीछे जाएं और अपनी सरकार से एक कदम आगे बढ़ने के लिए कहे और मैं उम्मीद करता कि यदि एक कदम आगे बढ़ा तो यहां लोग दो कदम आगे बढ़ेंगे.

इससे पहले सिद्धू ने शायराना अंदाज में इमरान खान की तारीफ की कराते हुए कहा कि नई सरकार के साथ पाकिस्तान में नया सबेरा है जो देश की तकदीर बदल सकता है. उन्होंने उम्मीद जतायी कि खान की जीत पाकिस्तान-भारत शांति प्रक्रिया के लिए बेहतर साबित होगी. (इनपुट- एजेंसी)