इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान कश्मीर मुद्दे पर विदेशी मीडिया में भाव न मिलने पर बौखला गए हैं. अपनी बौखलाहट को उन्होंने ट्वीट के जरिए जाहिर किया है. इमरान खान ने कहा कि एक तरफ हांगकांग के प्रदर्शन अंतर्राष्ट्रीय मीडिया की सुर्खियों में बने हुए हैं जबकि दूसरी तरफ कश्मीर के लोगों के साथ हो रहे ‘व्यवहार’ पर इसी मीडिया में अपेक्षाकृत खामोशी छाई रहती है.

इसके अलावा इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि कश्मीर को मिले विशेष दर्जे को समाप्त कर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘अपना आखिरी दांव’ खेल चुके हैं. पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार ‘कश्मीरियों के प्रति एकजुटता’ जताने के लिए शुक्रवार को इस्लामाबाद में मानव श्रृंखला बनाई गई. इस कार्यक्रम में इमरान ने भी शिरकत की. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने पहले की ही तरह भारत पर बेबुनियाद आरोप लगाते हुए कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित उल्लंघन का मुद्दा उठाया और कहा कि ‘भारत ने 80 लाख लोगों को दो महीने से बंद किया हुआ है.’

खुश न हों इमरान! पाकिस्तान बैंक के गर्वनर ने कहा अभी और लगेंगे महंगाई के झटके

इमरान ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “मोदी ने गलती की है. उन्होंने अपना आखिरी दांव खेल दिया है. मोदी को लगता है कि कश्मीरी अवाम अनुच्छेद 370 को रद्द करने को स्वीकार कर लेगी. लेकिन, उन्हें (मोदी को) नहीं पता है कि पिछले कई दशकों में कश्मीर के लोगों ने जो कुछ सहा है, उसने उनके दिलों से मौत का खौफ निकाल दिया है.”

कश्मीर में कहीं कर्फ्यू नहीं लगा है लेकिन इमरान ने कश्मीरियों को उकसाते हुए कहा, “एक बार जब कर्फ्यू हट जाएगा, तब हजारों कश्मीरी इस फैसले के खिलाफ सड़कों पर उतर पड़ेंगे.” उन्होंने कहा कि आज यहां पर लोग इसलिए आए हैं कि वे कश्मीरियों को बता सकें कि पाकिस्तान उनके साथ खड़ा है. एक दिन आएगा जब कश्मीरियों की मुहिम समुंदर बन जाएगी.

(इनपुट आईएएनएस)