इस्लामाबाद/लाहौर: अधिकारियों की जानकारी के अनुसार पाकिस्तान शुक्रवार को टायफाइड के नए टीके की शुरुआत करने वाला दुनिया का पहला देश बन गया. पाकिस्तान के स्वास्थ्य अधिकारियों को देश में बड़े पैमाने पर दवा रोधी टायफाइड के फैलने की जानकारी मिली थी. ‘सेल्मोनेला टाइफी बैक्टीरिया’ की एक ऐसी किस्म आई थी, जिसकी चपेट में देश में नवम्बर 2016 से करीब 11 हजार लोग आ गए थे. देश का सिंध प्रांत इस बीमारी से सबसे अधिक प्रभावित है.

कराची में एक कार्यक्रम में ‘टायफाइड कॉन्जुगेट वैक्सीन’ (टीसीवी) टीके की शुरुआत की गई. इस दौरान स्वास्थ्य संबंधी मामलों पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के विशेष सहायक जफर मिर्जा और प्रांतीय स्वास्थ्य मंत्री अजरा फजल पेचूहो मौजूद थीं. मिर्जा ने कहा कि पाकिस्तान टीवीसी को अपने नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल करने वाला दुनिया का पहला देश बन गया है.

मैंने भारत से संबंध सुधारने की हरसंभव कोशिश की : इमरान खान

वहीं, पाकिस्तान के लाहौर व आसपास के जिलों में शुक्रवार को हवा की गुणवत्ता खतरनाक स्तर को पार कर गई. इस वजह से स्थानीय सरकार को सभी सरकारी व निजी स्कूलों को दो दिन के लिए बंद करने को मजबूर होना पड़ा. पंजाब स्कूल एजुकेशन डिपार्टमेंट द्वारा जारी एक अधिसूचना में कहा गया, “घने धुआंधुंध के मद्देनजर लाहौर, फैसलाबाद व गुजरांवाला जिलों के क्षेत्रीय सीमा के तहत चलने वाले सार्वजनिक व निजी स्कूल 15 व 16 नवंबर को बंद रहेंगे.”