इस्लामाबाद: पाकिस्तान द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्षविराम उल्लंघन के बाद भारत की मुंहतोड़ जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है. संवेदनशील एलओसी के पास पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में एक बांध के निर्माण में लगे पचास चीनी नागरिकों को वहां से हटा दिया गया है. Also Read - Chinese village in Arunachal! चीन ने तीन महीनों के अंदर अरुणाचल प्रदेश में बसा दिया गांव? भारत ने दिया ये जवाब

Also Read - पाकिस्तान में 'सर्जिकल स्ट्राइक' से जनता में विश्वास आया कि मोदी सरकार के नेतृत्व में देश सुरक्षित: शाह

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय सेना की लगातार गोलाबारी के मद्देनजर एलओसी के पास काम कर रहे पचास चीनी नागरिकों को वहां से हटा दिया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण से संबद्ध अख्तर अय्यूब ने बताया यह सभी चीनी नीलम और झेलन नदी के संगम पर बन रहे बांध पर काम कर रहे थे. गोलीबारी के बाद पाकिस्तानी अधिकारियों ने मंगलवार इन्हें वहां से हटा दिया. Also Read - Army Day 2021: आर्मी चीफ का चीन को स्पष्ट संदेश, कहा- भारतीय सेना के धैर्य की परीक्षा न ले कोई देश, हम...

पाकिस्तान ने पुंछ में LOC के पास किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, भारतीय सेना दे रही मुंहतोड़ जवाब

भारतीय सेना द्वारा अंधाधुंध फायरिंग के बाद फैसला

एक अन्य स्थानीय अधिकारी राजा शाहिद महमूद ने कहा कि भारतीय सेना द्वारा अंधाधुंध फायरिंग के बाद इन्हें हटाने का फैसला किया गया. उन्होंने दावा किया कि भारतीय फायरिग में एक महिला व एक बच्चे समेत तीन लोग मारे गए हैं और 31 लोग घायल हुए हैं.