लाहौर: पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने सरकार से कहा है कि वह जेल में नवाज शरीफ की कोठरी से एयरकंडीशनर (एसी) न हटवाए क्योंकि यह डॉक्टरों की अनुशंसा का उल्लंघन होगा और पहले से ही कमजोर प्रधानमंत्री की सेहत पर और बुरा प्रभाव पड़ेगा.

शरीफ (69) दिसंबर 2018 से लाहौर की कोट लखपत जेल में सात साल कैद की सजा काट रहे हैं. सर्वोच्च अदालत द्वारा 28 जुलाई 2017 को पनामा पेपर मामले में दिये गए आदेश के बाद एक जवाबदेही अदालत द्वारा भ्रष्टाचार के तीन मामलों में से एक में दोषी ठहराए जाने के बाद वह सजा काट रहे हैं. अमेरिका में पिछले हफ्ते पाकिस्तानी समुदाय को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा, “मैं वापस जा रहा हूं और यह सुनिश्चित करूंगा कि शरीफ को कोई एयर कंडीशनिंग (वातानुकूलन सुविधा) या टीवी न मिले. मुझे पता है मरियम बीबी (शरीफ की बेटी) कुछ शोर मचाएंगी, लेकिन मैंने उनसे कहूंगा, रुपये लौटा दीजिए. यह बहुत आसान है.”

चंद्रयान-2 लॉन्च से क्या डरे हैं आम पाकिस्तानी? बोले- भारत की प्रगति खतरनाक, कुछ सीखे पकिस्तान

डॉन की खबर के मुताबिक मुख्य सचिव को शनिवार को लिखे पत्र में नेशनल असेंबली में नेता विपक्ष शहबाज ने कहा कि तीन बार प्रधानमंत्री रहे शरीफ की जान को खतरे में डालने की कोशिश की जा रही है. शहबाज ने कहा कि पंजाब सरकार ने महानिरीक्षक (कारागार) को शरीफ की कोठरी से एयर कंडीशनर हटाने को कहा है. प्रधानमंत्री खान ने भी अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान कहा था कि वह शरीफ की कोठरी से एसी और टीवी हटवाएंगे.

पीएमएल-एन प्रमुख ने कहा कि पंजाब प्रशासन द्वारा गठित मेडिकल बोर्ड के मुताबिक, कोट लखपत जेल में शरीफ के कमरे का तापमान आरामदायक स्तर पर रखा जाना चाहिए जिससे उन्हें शरीर में पानी की कमी और गुर्दों के और खराब होने से बचाया जा सके. इस बीच शहबाज और मरियम ने जेल में शरीफ से मुलाकात की. इस दौरान बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता जेल के बाहर मौजूद थे. शरीफ और उनके परिवार ने किसी भी तरह की गड़बड़ी करने से इनकार किया था और कहा कि उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले राजनीति से प्रेरित हैं.