इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से सितंबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की न्यूयार्क यात्रा के दौरान वहां विरोध प्रदर्शन करने के लिए कहा है. इमरान खान ने बुधवार को फैसला किया कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) न्यूयॉर्क में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करेगा, ताकि जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाली धारा 370 को निरस्त करने के भारतीय प्रधानमंत्री के फैसले पर उनकी सरकार को वैश्विक प्रतिक्रिया का सामना करना पड़े.

  एक समय आएगा जब भारत और कई देशों को अफगानिस्तान में आतंकवाद से लड़ना होगा: डोनाल्‍ड ट्रम्प 

जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्‍म करने और उसे दो केन्द्र शासित प्रदेशों में बांटने के केंद्र सरकार के फैसले से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं और विदेश में रहने वाले समर्थकों से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर का मुद्दा उठाने में मदद करने को कहा है. सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने कश्मीर के मुद्दे को सभी वैश्विक मंचों पर उठाने का निर्णय किया है.

इमरान ने पार्टी के विदेश सचिव अब्दुल्ला रिआर से बुधवार को मुलाकात की और पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं से अगले सप्ताह संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ प्रदर्शन करने का निर्देश दिया.

द डॉन की रिपोर्ट के मुता‍बिक, पीटीआई के केंद्रीय मीडिया विभाग ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र महासभा के एक सत्र में भाग लेने न्यूयार्क जा रहे मोदी की यात्रा के दौरान तीव्र विरोध प्रदर्शन होगा.

इमरान खान ने न्यूयॉर्क में विरोध प्रदर्शन की तैयारी के लिए पीटीआई की विदेशी इकाइयों को निर्देश जारी किए हैं. ये निर्देश इमरान खान के साथ पीटीआई ऑफिस ऑफ इंटरनेशनल चैप्टर के सचिव अब्दुल्ला रायार की बैठक के दौरान दिए गए. डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, इमरान खान ने रियार को अमेरिका में पाकिस्तानी समुदाय और भारत के खिलाफ मानवाधिकार संगठनों को एकत्र करने के लिए भी निर्देशित किया है. (इनपुट: एजेंसी)