Coronavirus in Pakistan : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान लगातार हो रही विपक्षी रैलियों से डर गए हैं और उन्होंने पूरे पाकिस्तान में फिर से पूर्ण लॉकडाउन लगाने की चेतावनी दे डाली. हालांकि इसके पीछे उन्होंने कोरोना वायरस फैलने की बात कही है. इमरान खान ने चेतावनी दी है कि कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद अगर विपक्ष ने रैलियां आयोजित करना जारी रखा तो देश भर में पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया जाएगा. Also Read - पाकिस्तान ने इस देश के कोरोना टीके को दी मंजूरी, दिया 11 लाख खुराक का ऑर्डर

डॉन न्यूज के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में, पाकिस्तान में कोरोना के 2,665 नए मामले सामने आए और 59 मौतें हुईं. देश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 374,173 हो चुकी है और 7,696 लोग इस बीमारी से दम तोड़ चुके हैं. Also Read - पाकिस्तान में 'सर्जिकल स्ट्राइक' से जनता में विश्वास आया कि मोदी सरकार के नेतृत्व में देश सुरक्षित: शाह

रविवार रात इमरान खान ने ट्वीट कर लिखा, “पाकिस्तान में, पीडीएम (पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट) जलसा जारी रखकर जानबूझकर लोगों के जीवन और आजीविका को खतरे में डाल रहा है क्योंकि अगर मामले बढ़ते रहते हैं, जिस दर पर हम देख रहे हैं, हम पूर्ण लॉकडाउन में जाने के लिए मजबूर होंगे और पीडीएम परिणामों के लिए जिम्मेदार होगा.” Also Read - पाक से राजस्थान आए करीब 700 लोग 'लापता', केंद्र ने राज्य सरकार को दिए तलाशने के निर्देश

उन्होंने कहा कि एनआरओ (नेशनल रीक्नसिलिएशन ऑर्डिनेंस) पाने के लिए विपक्षी अपने हताशा में लोगों के जीवन और आजीविका को नष्ट कर रहे हैं. हम यह स्पष्ट करने दें कि वे लाखों जलसे आयोजित कर सकते हैं लेकिन उन्हें कोई एनआरओ नहीं मिलेगा. इमरान ने कहा कि मैं लॉकडाउन लगाने जैसा कदम नहीं उठाना चाहता हूं जो हमारी अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देगा जो इस समय एक मजबूत रिकवरी का संकेत दे रहा है.

एक अन्य ट्वीट में, खान ने यह भी कहा कि पिछले 15 दिनों के दौरान पेशावर और मुल्तान में वेंटिलेटर पर रोगियों की संख्या में 200 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. कराची में यह 148 प्रतिशत, लाहौर में 114 प्रतिशत और इस्लामाबाद में 65 प्रतिशत है. उन्होंने कहा कि मुल्तान और इस्लामाबाद में सत्तर फीसदी वेंटिलेटर इस्तेमाल में हैं. खान की घोषणा पीडीएम द्वारा स्थानीय प्रशासन की अनुमति के बगैर रविवार को पेशावर में चौथी रैली करने के बाद आया है.

(इनपुट आईएएनएस)