Crime In Pakistan: पाकिस्तान में महिलाओं की अश्लील फोटोज, वीडियोज से उन्हें ब्लैकमेल करने में वहां की महिलाओं का बड़ा हाथ है. ये बात अब जांच एजेंसियों के लिए सिरदर्द बन गई है. Also Read - पाकिस्तान के लाहौर में कोरोना वायरस के 6,70,000 मामले! रिपोर्ट में चौकाने वाला दावा

पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) का कहना है कि देश में अश्लील तस्वीरों व वीडियो की मदद से महिलाओं को महिलाओं द्वारा ही ब्लैकमेल करने की घटनाओं में चिंताजनक हद तक बढ़ोतरी हुई है. Also Read - जासूसी में दो अफसरों के निष्‍कासन से तिलमिलाए पाक ने भारतीय राजनयिक को तलब किया

‘जियो न्यूज उर्दू’ की रिपोर्ट के मुताबिक, एफआईए से मिले आंकड़ों से पता चला है कि पाकिस्तान के तीन बड़े शहरों कराची, लाहौर और इस्लामाबाद में बीते साल और मौजूद साल के पहले चार महीनों में साइबर अपराध के 95 मामले दर्ज हुए. इनमें से 67 मामले (कुल मामलों का 70 फीसदी) महिलाओं ने उन्हें ब्लैकमेल किए जाने का आरोप लगाते हुए दर्ज कराए और कहा कि उन्हें ब्लैकमेल किए जाने की आरोपी महिलाएं ही हैं. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह ने दिखाए सख्त तेवर, बोले- भारत अपनी सीमाओं पर किसी भी तरह का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं करेगा

रिपोर्ट में कहा गया है कि चिंताजनक तथ्य यह भी सामने आया है कि कथित तौर पर जिसे समाज का शिक्षित तबका कहा जाता है, वह अश्लील ब्लैकमेलिग में आगे है.

ऐसे भी मामले सामने आए हैं कि खुद कुछ पढ़ी-लिखी महिलाएं अपनी अश्लील तस्वीरें और वीडियो बनाती या बनवाती हैं और साथ ही पढ़े-लिखे पुरुष, महिलाओं की ब्लैकमेलिंग में गिरफ्तार हो रहे हैं.

जांच एजेंसी का कहना है कि महिलाओं को ब्लैकमेल करने में अधिकतर उनके पति, पूर्व पति, मंगेतर और करीबी पुरुष दोस्त शामिल होते हैं.
(एजेंसी से इनपुट)