इस्लामाबाद: पाकिस्तान 2022 में चीन की मदद से अपने पहले व्यक्ति को अंतरिक्ष में भेजेगा. इसकी घोषणा गुरुवार को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने की. चौधरी ने ट्विटर पर लिखा कि पहले पाकिस्तानी को अंतरिक्ष में भेजने की चयन प्रक्रिया फरवरी 2020 से शुरू होगी. उन्होंने लिखा, “पचास लोगों को शॉर्टलिस्ट किया जाएगा. इसके बाद यह सूची 25 पर आ जाएगी और 2022 में हम अपने पहले व्यक्ति को अंतरिक्ष में भेज देंगे.” उन्होंने इसे अपने इतिहास की सबसे बड़ी अंतरिक्ष घटना करार दिया.Also Read - G-7 की बैठक में बड़ा फैसला, चीन के बेल्ट रोड इनिशिएटिव को टक्कर देगा 600 अरब डॉलर का यह मेगा प्लान

डॉन के मुताबिक, चौधरी ने कहा कि वायु सेना चयन प्रक्रिया का संरक्षक होगा और दुनियाभर के पायलटों को इस अंतरिक्ष मिशन के लिए चुना जाएगा. मंत्री ने कहा कि शुरू में 50 पायलटों का चयन किया जाएगा, जिसमें से सूची को 25 तक लाया जाएगा. इसके बाद चयनित 10 पायलटों को प्रशिक्षित किया जाएगा और अंतत: एक पायलट को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. Also Read - पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान के घर में जासूसी की कोशिश। Watch Video

रिपोर्ट के अनुसार, चौधरी ने कहा चूंकि उनके देश के पास खुद की सैटेलाइट लॉन्चिंग सुविधा नहीं है, इसलिए वह चीन की मदद से अंतरिक्ष का रास्ता तय करेगा. उन्होंने बताया कि चीन व पाकिस्तान के बीच समझौते के तहत यह प्रक्रिया अमल में लाई जाएगी. Also Read - FB पर हुई दोस्ती, चुपके से पासपोर्ट बनवाया, पाकिस्तान जाने की कोशिश में पकड़ी गई ये लड़की, फिर...