इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने कोरोना वायरस के प्रकोप से उत्पन्न आर्थिक संकट से निपटने के लिए तीन बहुपक्षीय ऋणदाताओं से 3.7 अरब डॉलर का अतिरिक्त ऋण मांगा है. देश में कोरोना वायरस से अब तक नौ लोगों की मौत हो चुकी है और 1,100 से अधिक लोग इससे संक्रमित है. वित्त मामलों पर प्रधानमंत्री के सलाहकार अब्दुल हफीज शेख ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से 1.4 अरब डॉलर ऋण के अलावा, विश्व बैंक और एशियाई विकास बैंक देश में क्रमशः एक अरब डॉलर और 1.25 अरब डॉलर कर्ज देंगे. Also Read - Colleges in Gujarat closed: कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर गुजरात में सभी कॉलेज 30 अप्रैल तक बंद

प्रधानमंत्री खान ने इससे पूर्व 1.2 खरब आर्थिक राहत पैकेज की घोषणा की थी. ताजा आधिकारिक आंकड़े के अनुसार पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 1,102 पहुंच गई है. स्वास्थ्य सेवाओं के मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार सिंध में 421 मरीज, पंजाब में 345, बलूचिस्तान में 131, खैबर पख्तूनख्वा (केपी) में 123, गिलगित-बाल्टिस्तान (जीबी) में 84, इस्लामाबाद में 25 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में एक मामला सामने आया है. अब तक नौ लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 28 लोग ठीक हो गए है और पांच मरीजों की हालत गंभीर बनी हुई है. Also Read - Corona Spike in UP: यूपी में COVID19 के 15,353 नए केस आए इलाहाबाद HC में कल से ऑनलाइन सुनवाई

कोरोना वायरस संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित सिंध में नए मामलों में मामली कमी आई है जबकि पंजाब, बलूचिस्तान, खैबर पख्तूनख्वा और संघीय राजधानी क्षेत्र में नये मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. प्रधानमंत्री खान बृहस्पतिवार को इस्लामाबाद में एक पृथक केन्द्र गये और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अध्यक्ष ने उन्हें वहां के प्रबंधों से अवगत कराया. इस बीच पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स (पीआईए) ने घोषणा की कि उन यात्रियों के लिए विशेष प्रीमियम उड़ानों का संचालन किया जायेगा, जिन्हें तुरंत घर लौटने की आवश्यकता है. इन उड़ानों का संचालन केवल एक तरफ पाकिस्तान से होगा. यह निर्णय 26 मार्च से दो अप्रैल तक प्रभावी रहेगा. Also Read - COVID Vaccine: भारत में Sputnik को मिल सकती है 10 दिन में मंजूरी, वैक्‍सीनेशन का आंकड़ा 10 करोड़ हुआ