इस्लामाबाद। सैयद सलाहुद्दीन को अमेरिका द्वारा वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने पर पाकिस्तान की तरफ से पहली प्रतिक्रिया आई है. पाकिस्तान ने अमेरिका के इस कदम को अन्यायपूर्ण ठहराया है. पाकिस्तान का कहना है कि वह कश्मीर के लोगों के लिए आवाज उठाता रहेगा. गौरतलब है कि सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बैठक से पहले अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन सरगना सैयद सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित किया. भारत ने इस कदम का स्वागत किया है लेकिन पाकिस्तान बौखला गया. Also Read - Sharjah से Lucknow आ रही IndiGo flight कराची में हुई लैंड, लेकिन यात्री की नहीं बच सकी जान

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके साफ किया कि किसी निजी व्यक्ति को भारत के कब्जाए हुए जम्मू-कश्मीर की आजादी के लिए आवाज उठाने पर आतंकवादी घोषित किया जाना गलत है. पाकिस्तान ने कहा कि पिछले 70 सालों से कश्मीर के लोगों पर मानवाधिकार के नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है. Also Read - मलाला यूसुफजई ने कहा- भारत और पाकिस्तान को अच्छे दोस्त बनते देखना मेरा सपना, लोग शांति चाहते हैं

अमेरिका ने सोमवार को अपने आधिकारिक बयान में कहा कि सैयद सलाहुद्दीन को विशेष घोषित वैश्विक आतंकी (SDGT) की श्रेणी में सेक्शन 1बी और आदेश संख्या 13224 के अंतर्गत रखा जाता है. यह श्रेणी ऐसे विदेशी व्यक्ति के लिए है जो किसी ना किसी रूप में आतंक से जुड़ा है और अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश नीति और अर्थव्यवस्था को खतरा है. Also Read - FATF Grey List: Imran Khan को फिर लगा झटका, FATF की 'ग्रे लिस्ट' में बना रहेगा पाकिस्तान

अमेरिका का यह क़दम सीधे तौर पर पाकिस्तान के लिए भी चेतावनी है. अमेरिका ने साफ किया है कि आतंकवाद को पनाह देने वालों को भी बख्शा नहीं जाएगा. लेकिन पाकिस्तान ने आज अपना रुख स्पष्ट किया और जता दिया है कि वो सुधरने वाला नहीं है.