इस्लामाबाद/लंदन. दुनियाभर के हवाई अड्डों पर फंसे हजारों यात्रियों को उस समय राहत मिली जब पाकिस्तान ने एलान किया कि वह अपने हवाई क्षेत्र को शुक्रवार तक फिर से पूरी तरह खोल देगा. उड्डयन प्राधिकरण ने गुरुवार को कुछ उड़ानों को अनुमति भी दी. पाकिस्तान ने भारत से तनाव के चलते बुधवार को अपने हवाई क्षेत्र को बंद कर दिया था. पाकिस्तान के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (सीसीए) ने बृहस्पतिवार को हवाई क्षेत्र को कुछ वाणिज्यिक उड़ानों के लिए अस्थायी रूप से बहाल कर दिया, जिसके बाद कुछ उड़ानों को रवानगी की अनुमति मिली.

मसूद अजहर को दुनिया मानती है ग्लोबल आतंकी, मगर चीन को अब भी ऐतराज

सीएए के ताजा नोटिस में कहा गया है कि हवाई क्षेत्र पाकिस्तान के समयानुसार शुक्रवार दोपहर एक बजे तक बंद रहेंगे. भारत के साथ बढ़ते तनाव के जवाब में पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र को बंद करने से यूरोप और दक्षिण पूर्व एशिया के बीच प्रमुख मार्ग बाधित हुए और दुनिया भर में हजारों यात्री हवाई अड्डों पर फंस गए. हवाई क्षेत्र बंद होने के कारण थाई एयरवेज ने अपनी करीब 30 उड़ानों को रद्द कर दिया, जिससे लगभग 5,000 यात्री प्रभावित हुए. कंपनी ने टि्वटर पर लिखा, ‘‘पाकिस्तानी हवाईक्षेत्र बंद रहने से बैंकाक से यूरोप के बीच थाईलैंड की सभी उड़ानें 27 फरवरी से 28 फरवरी की सुबह तक रद्द रहीं. वहीं यूरोप से बैंकांक की 27 फरवरी को रवाना होने वाली उड़ानें भी रद्द रहीं.’’

IAF पायलट अभिनंदन की बहादुरी का कायल हुआ पाकिस्तान, चश्मदीद ने बयां की पूरी कहानी

IAF पायलट अभिनंदन की बहादुरी का कायल हुआ पाकिस्तान, चश्मदीद ने बयां की पूरी कहानी

एयर इंडिया, जेट एयरवेज, कतर एयरवेज और सिंगापुर एयरलाइंस जैसी विभिन्न एयरलाइंस कंपनियों ने बुधवार को घोषणा की कि वे अपनी उड़ानों का मार्ग बदल रहे हैं क्योंकि पाकिस्तान ने अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है. सिंगापुर एयरलाइंस को भी अपनी यूरोप की सीधी उड़ानों में फिर से ईंधन भरवाना पड़ा, जबकि फ्रैंकफर्ट की उड़ान को रद्द कर दिया गया. इसी तरह एमिरेट्स को अपनी पाकिस्तान जाने वाली 10 उड़ानें रद्द करनी पड़ीं. कतर एयरवेज ने भी अपनी पेशावर, फैसलाबाद, इस्लामाबाद, कराची, लाहौर और मुल्तान जाने वाली उड़ानों को वापस बुला लिया.

(इनपुट – एजेंसी)