नई दिल्‍ली: न्यूजीलैंड में सुदूर माइक्रोनेशियन द्वीप पर चुक इंटरनेशनल एयरपोर्ट (chuuk international airport) पर उतरने से पहले ही पापुआ न्‍यू गिनी (Papua New Guinea) का Air Niugini विमान हादसे का शिकार हो गया. हालांकि विमान में सवार सभी यात्रियों और क्रू मेंबर्स को बचा लिया गया है. बता दें कि एयरपोर्ट पर लैंडिंग से करीब 150 गज की दूरी से पहले ही विमान को समुद्र में उतारना पड़ा.

 

डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक, एयरपोर्ट के मैनेजर ने बताया कि छोटी नौकाओं के जरिए सभी 47 यात्रियों और चालक दल को बचाया गया. शुक्रवार को दक्षिण प्रशांत राष्ट्र माइक्रोनेशिया के हवाई अड्डे पर रनवे से पहले यह विमान समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. माइक्रोनेशिया में चुक एयरपोर्ट के महाप्रबंधक जिमी एमिलियो ने फोन से रॉयटर्स को बताया कि विमान को एयरपोर्ट तक ले जाना था, लेकिन वहां लैंडिंग के बजाय 150 गज पहले ही वह नीचे आ गया. ऐसे में विमान को समुद्र में उतारना पड़ा. हालांकि विमान में सवार लोगों को नौकाओं से बचाया गया, जिसमें 36 यात्रियों और 11 क्रू मेंबर्स शामिल हैं.

वियतनाम से रूस जा रहे विमान की आईजीआई एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग, 345 यात्री थे सवार

पापुआ न्‍यू गिनी के बोइंग 737 विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित
माइक्रोनेशिया में चुक एयरपोर्ट के महाप्रबंधक जिमी एमिलियो ने कहा कि पापुआ न्‍यू गिनी (Papua New Guinea) के के Air Niugini बोइंग 737 विमान ने लगभग 9.30 बजे स्थानीय समय (23:30) को उड़ान भरा था. फिलहाल विमान में सवार यात्रियों और चालक दल को अस्पताल ले जाया गया है. हालांकि किसी को कोई गंभीर चोट की सूचना नहीं मिली है. रेडियो न्यूजीलैंड द्वारा ऑनलाइन प्रकाशित वीडियो और ट्विटर पर पोस्ट की गई तस्वीरों ने छोटे स्पीडबोट से घिरे आधे डूबे हुए विमान को दिखाया गया है.

पहले भी हुआ इस तरह का हादसा
उधर, पापुआ न्यू गिनी (Papua New Guinea) के विमान हादसे की जांच आयोग के एक प्रवक्ता ने कहा कि जांचकर्ता जल्द से जल्द इस बात का पता लगाएंगे कि हादसा कैसे हुआ था. बता दें कि 2013 में भी लॉयन एयर फ्लाइट जो कि 101 यात्री को लेकर जा रहा था वह इंडोनेशिया में डेनपसार में रनवे से आगे पानी में उतर गया था. उस दौरान सभी यात्रियों को नावों से बचाया गया था. हालांकि किसी प्रकार की जनहानि हुई थी.