न्यूयॉर्क: अमेरिका में आयोजित होने वाले बुल-राइडिंग कार्यक्रम को लेकर पेटा का दोहरा मानदंड सामने आया है. जी हां एक तरफ तो पीपुल फॉर एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (पेटा) ने जल्लीकट्टू पर रोक लगाने के लिए सर्वोच्च अदालत में याचिका दायर की थी लेकिन अमेरिका में उसी प्रकार के आयोजन ‘बुलराइडिंग’ पर रोक लगाने के लिए वह इस तरह का कानूनी रास्ता अख्तियार नहीं कर रहा है. न्यूयॉर्क के मैडिसन स्क्वायर गार्डन में शुक्रवार से शुरू हुए तीन दिवसीय बुलराइडिग कार्यक्रम का आयोजन पेशेवर बुलराइडर कर रहे हैं.

मेक्सिको दीवार के लिए फंड नहीं मिला तो ‘राष्ट्रीय आपातकाल’ घोषित कर सकते हैं ट्रंप

सांड के राइडर को फेंकने तक सवारी 
इस बुल-राइडिंग कार्यक्रम को पेटा की ओर से किसी तरह की कानूनी चुनौती या सक्रिय विरोध का सामना नहीं करना पड़ रहा है, जिस तरह की चुनौतियों का सामना भारत में जल्लीकट्टू को करना पड़ा. जल्लीकट्टू में लोग सांड के पीछे दौड़ते हैं और उसके हम्प (कुबड़) को पकड़ने की कोशिश करते हैं जबकि बुल-राइडिग में लोग उस पर बैठते हैं और तब तक उसे पकड़कर बैठे रहने की कोशिश करते हैं, जब तक कि सांड उस राइडर को फेंक नहीं देता.

Capture

क्रूर तमाशे का विरोध
तमिलनाडु में जल्लीकट्टू एक पारंपरिक सांस्कृतिक कार्यक्रम है, जिसका आयोजन पोंगल के आसपास होता है जबकि बुलराइडिंग एक व्यावसायिक खेल गतिविधि है, जिसका अमेरिका की प्रमुख कंपनियां और अमेरिकी सरकार के सीमा गश्ती दल समर्थन करते हैं. मैडिसन स्क्वायर गार्डन में होने वाले इस समारोह की सबसे सस्ती टिकटों की कीमत 59 डॉलर है. पेटा की अध्यक्ष इनग्रिड नेवकिर्क ने मीडिया को दिए बयान में कहा, “इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन पेशेवर बुलराइडर्स (पीबीआर) द्वारा किया जाता है, जो आज के सभ्य समाज में बिरले ही हैं और दुनियाभर के अधिकतर लोगों द्वारा तिरस्कृत है.”

उन्होंने कहा, “पेटा इंडिया की अलग इकाई पेटा अमेरिका इस क्रूर तमाशे का विरोध करेगी और जिस प्रकार पेटा के प्रयास से स्पेन के 100 से ज्यादा शहरों में बुलफाइट पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है उसी प्रकार इस पर प्रतिबंध लगने की उम्मीद करती है.” हालांकि, पेटा ने उस सवाल का जवाब नहीं दिया कि वह बुलराइडिग के खिलाफ कानूनी रास्ता अख्तियार क्यों नहीं कर रही है, जिस तरह उसने जल्लीकट्टू को लेकर भारत में किया था.

जापान के नये फिश मार्केट में रिकॉर्ड 22 करोड़ में बिकी ये मछली, जानें क्या है खासियत…

न्यूकिर्क के उस दावों के बावजूद कि पीबीआर की तरह के कार्यक्रम आज के सभ्य समाज में बिरले ही होते हैं. अमेरिका में इस साल अकेले पीबीआर द्वारा ही 81 बुलराइडिग कार्यक्रमों का आयोजन किया गया और कुछ का आयोजन सीबीएस द्वारा किया गया. बुलफाइटिंग के खूनी खेल का आयोजन स्पेन में होता है. इसमें जानवरों की मौत हो जाती है. एक वैश्विक बुलराइडिग चैम्पियनशिप का आयोजन अगले महीने अमेरिका में होने जा रहा है, जिसमें अमेरिका, आस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा और मेक्सिको की टीमें हिस्सा लेंगी. (इनपुट आईएएनएस)

ट्रंप ने भारतीय मूल के पुलिस ऑफिसर की मौत पर जताया दुख, क्रिसमस की रात हुई थी रोनिल की हत्या