बोइरने। जमीन से लगभग 30,000 फुट की ऊंचाई पर उड़ रहे एक विमान के एक इंजन में धमाका होने, उसकी एक खिड़की क्षतिग्रस्त हो जाने और एक यात्री के उससे बाहर गिरने जैसी विकट परिस्थिति में भी सूझ बूझ से काम लेने और उड़ान की सफलतापूर्वक आपात लैंडिंग कराने को लेकर साउथवेस्ट एयरलाइंस की महिला पायलट की खूब प्रशंसा हो रही है.

लड़ाकू विमान की पायलट रह चुकी हैं टेमी

टेमी जो शल्ट्स अमेरिकी नौसेना में लड़ाकू विमान की पायलट रह चुकी हैं. वह डलास जा रहे विमान 1380 की कैप्टन और पायलट थी. इस विमान को मंगलवार को फिलाडेल्फिया में आपात स्थिति में उतारा गया. दरअसल, जिस विमान के एक इंजन में विस्फोट हो गया. उस वक्त विमान 500 मील प्रति घंटा की रफ्तार से 30,000 फुट की ऊंचाईं पर उड़ रहा था और उसमें 149 लोग सवार थे.

विमान से टकराई थी नुकीली चीज

विस्फोट के बाद एक नुकीली चीज विमान से टकराई और विमान की खिड़की क्षतिग्रस्त हो गई. यात्रियों ने बताया कि उन लोगों ने क्षतिग्रस्त खिड़की से बाहर गिरी जा रही एक महिला को बचाया. हालांकि, सिर में चोट लग जाने के चलते बाद में महिला की मौत हो गई.

इन आपात परिस्थितियों में भी टेमी ने संयम से काम लिया और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को पूरी जानकारी दी. विमान को फिलाडेल्फिया में आपात स्थिति में उतारा गया. इस घटना के बाद टेमी की प्रशंसा हो रही है.