कुआलालंपुर: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा कि उनका देश मलेशिया से अधिक पाम तेल का आयात करेगा. उन्होंने मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद को कश्मीर मुद्दे पर बोलने के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि वह भारत द्वारा मलेशिया से पाम तेल की खरीद पर लगाए गए अंकुश की भरपाई करने का प्रयास करेंगे. राजनयिक विवाद के बाद भारत ने मलेशिया के पाम तेल के आयात पर अंकुश लगा दिया है.Also Read - भारत ने इंडोनेशिया को 16-0 से रौंदा, Asia Cup 2022 के सुपर-4 में प्रवेश

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने महातिर के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘आप कश्मीरियों को न्याय के लिए बोले. इसके लिए हम आपके आभारी हैं.’‘ पाकिस्तान की सरकारी एसोसिएटेड प्रेस की खबर के अनुसार खान ने कहा, ‘‘हमने देखा है कि भारत ने कश्मीर मुद्दे पर समर्थन के लिए मलेशिया को धमकाया है और उनसे पाम तेल का आयात रोक दिया है. पाकिस्तान इसकी भरपाई करने का भरपूर प्रयास करेगा.’’ Also Read - तिहाड़ जेल में उम्रकैद काटेगा यासीन मलिक, 20 साल छोटी मुशाल से किया था प्यार, ऐसी थी लव स्टोरी

इंडोनेशिया और मलेशिया दुनिया के दो प्रमुख पाम तेल आपूर्तिकर्ता हैं. मलेशिया एक साल में 1.9 करोड़ टन पाम तेल का उत्पादन करता है वहीं इंडोनिशया का वार्षिक उत्पादन 4.3 करोड़ टन का है. भारत दुनिया का सबसे बड़ा वनस्पति तेल आयातक है. सालाना भारत 1.5 करोड़ टन का आयात करता है. मलेशिया की पाम तेल परिषद के अनुसार पाकिस्तान ने 2019 में मलेशिया से 10.8 लाख टन पाम तेल खरीदा. वहीं भारत ने मलेशिया से 44 लाख टन पाम तेल का आयात किया. Also Read - इमरान खान के मार्च के दौरान हिंसा, प्रदर्शनकारियों ने मेट्रो स्टेशन में लगाई आग | Watch video