कुआलालंपुर: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा कि उनका देश मलेशिया से अधिक पाम तेल का आयात करेगा. उन्होंने मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद को कश्मीर मुद्दे पर बोलने के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि वह भारत द्वारा मलेशिया से पाम तेल की खरीद पर लगाए गए अंकुश की भरपाई करने का प्रयास करेंगे. राजनयिक विवाद के बाद भारत ने मलेशिया के पाम तेल के आयात पर अंकुश लगा दिया है. Also Read - LG Wing Price in India on Flipkart: फ्लिपकार्ट पर 29,999 रुपये में मिल रहा है 70 हजार वाला LG का ड्यूअल-डिस्प्ले स्मार्टफोन

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने महातिर के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘आप कश्मीरियों को न्याय के लिए बोले. इसके लिए हम आपके आभारी हैं.’‘ पाकिस्तान की सरकारी एसोसिएटेड प्रेस की खबर के अनुसार खान ने कहा, ‘‘हमने देखा है कि भारत ने कश्मीर मुद्दे पर समर्थन के लिए मलेशिया को धमकाया है और उनसे पाम तेल का आयात रोक दिया है. पाकिस्तान इसकी भरपाई करने का भरपूर प्रयास करेगा.’’ Also Read - पाकिस्तान ने लॉन्च किया अपना 'हॉल ऑफ फेम', पहली बार में शामिल होंगे ये 6 महान खिलाड़ी

इंडोनेशिया और मलेशिया दुनिया के दो प्रमुख पाम तेल आपूर्तिकर्ता हैं. मलेशिया एक साल में 1.9 करोड़ टन पाम तेल का उत्पादन करता है वहीं इंडोनिशया का वार्षिक उत्पादन 4.3 करोड़ टन का है. भारत दुनिया का सबसे बड़ा वनस्पति तेल आयातक है. सालाना भारत 1.5 करोड़ टन का आयात करता है. मलेशिया की पाम तेल परिषद के अनुसार पाकिस्तान ने 2019 में मलेशिया से 10.8 लाख टन पाम तेल खरीदा. वहीं भारत ने मलेशिया से 44 लाख टन पाम तेल का आयात किया. Also Read - COVID Vaccine: भारत में Sputnik को मिल सकती है 10 दिन में मंजूरी, वैक्‍सीनेशन का आंकड़ा 10 करोड़ हुआ