किगाली: पीएम नरेंद्र मोदी ने रवांडा में भारतीय समुदाय के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि भारतवंशी पूरी दुनिया पर अपनी छाप छोड़ रहे हैं और वे भारत के राष्ट्रदूत हैं. मोदी ने कहा, ”रवांडा में भारतीय समुदाय से बातचीत करके मुझे खुशी हो रही है. राष्ट्रपति पॉल कागमे ने मुझसे कहा कि भारतीय समुदाय रवांडा के विकास में योगदान कर रहा है और वह बड़े पैमाने पर समाज सेवा करते हैं. मुझे यह सुनकर बहुत खुशी हुई.”

पीएम मोदी ने कहा, ”भारतवंशी पूरी दुनिया पर अपनी छाप छोड़ रहे हैं. वे हमारे राष्ट्रदूत हैं.” प्रधानमंत्री ने अपने दो दिवसीय रवांडा दौरे की शुरुआत कल की थी. मोदी यहां आने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं. रवांडा अफ्रीका महाद्वीप में सबसे तेजी से विकसित हो रहा देश है.

लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ”वर्षों से भारतीय समुदाय रवांडा में उच्च आयोग की स्थापना चाहता था. लंबे समय से की जा रही यह मांग पूरी की जाएगी ताकी आप भारत के साथ और जुड़ सकें.” इसस पहले मोदी ने राष्ट्रपति कागमे के साथ उच्च स्तरीय बातचीत करते हुए रक्षा, व्यापार और कृषि क्षेत्रों में सहयोग को मजबूत कर द्विपक्षीय रणनीतिक संबंधों को बढ़ावा देने के उपायों पर चर्चा की थी.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, कई सालों से रवांडा में भारतीय समुदाय एक उच्चायोग चाहता था। यह लंबी लंबित मांग पूरी हो जाएगी और आप भारत के साथ और भी जुड़े रहेंगे. पीएम मोदी ने संबोधित करते हुए कहा, आज यदि कोई भारतीय खिलाड़ी स्वर्ण पदक जीत रहा है, तो यह संभव हो गया है,क्योंकि हमने चयन प्रक्रिया पारदर्शी बना दी है. अब सही व्यक्ति सही जगह पर जाता है.

मंगलवार को  मोदी नरसंहार स्मारक का दौरा करेंगे और रवेरू मॉडल गांव का दौरा कर गिरिंका योजना के तहत 200 गाय तोहफे में देंगे. कागमे द्वारा शुरू की गई यह रवांडा की एक राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा योजना है. (इनपुट- एजेंसी)