कोलंबो: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को श्रीलंका की संक्षिप्त यात्रा के दौरान श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना से बातचीत करेंगे. पीएम मोदी ईस्टर के मौके पर हुए विस्फोटों के बाद श्रीलंका की यात्रा करने वाले किसी अन्य देश के पहले नेता होंगे. इस हमले में 250 लोगों की मौत हो गई थी जिनमें 11 भारतीय थे. यह श्रीलंका में मोदी की तीसरी यात्रा होगी. इससे पहले, उन्होंने 2015 और 2017 में श्रीलंका की यात्रा की थी.

राष्ट्रपति सिरिसेना के कार्यालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ घंटों के लिए रविवार को कोलंबो पहुंचेंगे. पुनर्निर्वाचित भारतीय नेता मालदीव से यहां आएंगे. मोदी पूर्वाह्न 11 बजे यहां पहुंचेंगे और सिरिसेना द्वारा आयोजित आधिकारिक भोज में शिरकत करेंगे और द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. श्रीलंकाई पुलिस ने बताया कि उसने मोदी की यात्रा के मद्देनजर यातायात संबंधी प्रतिबंधों समेत सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए हैं. नयी दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी त्रासदी से उबरने में श्रीलंका सरकार पर अपने भरोसे का संकेत देने और एकजुटता का स्पष्ट संदेश देने के लिए वहां की यात्रा करेंगे.

नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में शामिल होने दिल्ली पहुंचे श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना

भारत आतंकवाद से निपटने में श्रीलंका की मदद करेगा
यह पूछे जाने पर कि क्या भारत आतंकवाद से निपटने में श्रीलंका की मदद करेगा, मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह क्षेत्र के किसी भी देश को हर सहायता मुहैया कराने के लिए तैयार है. श्रीलंका में 21 अप्रैल को बम विस्फोट हुए थे. इसके लिए भारत की ओर से पहले ही खुफिया चेतावनी दी गयी थी.