नई दिल्‍ली/ इस्‍लामाबाद/ मुजफ्फराबाद: पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर में चीन के खिलाफ आक्रोश बढ़ गया है. पीओके में जलविद्युत परियोजना के तहत दो बांधों का निर्माण कर रहे चीन और पाकिस्‍तान के खिलाफ मुजफ्फराबाद में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया है. ये लोग झेलम और नीलम नदी में बांधों के निर्माण का विरोध कर रहे हैं. ये बांध परियोजनाएं महत्वाकांक्षी चीन-पाक आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) का हिस्सा है. Also Read - पहले शतक को याद कर सचिन तेंदुलकर बोले-उसकी नींव तो सियालकोट में ही पड़ गई थी

चीन और पाकिस्‍तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे एक प्रदर्शनकारी ने कहा, बांधों के लिए पाकिस्‍तान और चीन की सरकारों के बीच हुआ है. हमने इसे न कहा है. Also Read - PoK में चीन के खिलाफ नाराजगी बढ़ी, लोगों ने मशाल रैली नि‍कालकर किया भारी विरोध प्रदर्शन

पीओके में चीनी कंपनी का पाकिस्तान के साथ 150 करोड़ डॉलर का करार
पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में जलविद्युत परियोजना स्थापित करने के लिए चीन की एक कंपनी ने पाकिस्तान के साथ 150 करोड़ अमेरिकी डॉलर के समझौते पर सोमवार को हस्ताक्षर किए हैं.

समझौते पर हस्ताक्षर के दौरान पीएम इमरान खान भी मौजूद रहे
इस्लामाबाद में एक समारोह में ‘आजाद पत्तन जलविद्युत परियोजना’ के लिए चीन की जेझुबा के साथ समझौते पर हस्ताक्षर के दौरान प्रधानमंत्री इमरान खान भी मौजूद रहे. यह परियोजना पीओके के सुधनोती जिले में झेलम नदी पर है और इसके 2026 में पूरा होने की उम्मीद है. यह परियोजना महत्वाकांक्षी चीन-पाक आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) का हिस्सा है.