कोटोनोऊ (बेनिन): राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पश्चिम अफ्रीकी क्षेत्र के तीन देशों के दौरे के पहले चरण में रविवार को यहां बेनिन पहुंचे. भारत के किसी भी राष्ट्रप्रमुख की इस देश की यह पहली यात्रा है. कोविंद यहां कोटोनोऊ स्थित कोटोनोऊ अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे. यह शहर पश्चिम अफ्रीकी देश का सबसे बड़ा शहर है.Also Read - Pics: कार्यकाल खत्म होने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को जीवन भर फ्री में मिलेंगी ये सुविधाएं

Also Read - राष्ट्रपति भवन: भारत की गौरवगाथा की दास्तां है Rashtrapati Bhavan, 300 से अधिक कमरें, 70 करोड़ ईंट और लगा 17 साल का समय

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कमार ने ट्वीट कर बताया कि बेनिन के विदेश मंत्री औरेलाइन अग्बेनोन्सी ने हवाई अड्डे पर राष्ट्रपति की अगवानी की. कोविंद बेनिन के राष्ट्रपति पैट्रिक तालोन के साथ सोमवार को वार्ता करेंगे. बेनिन के राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद कोविंद पोर्तो नोवो के लिए रवाना होंगे जहां बेनिन की संसद है. बेनिन द्वारा भारत को दिये गए विशेष सम्मान के तहत कोविंद वहां नेशनल असेंबली को संबोधित करेंगे. विदेश मंत्रालय नयी दिल्ली में गुरूवार को जारी बयान में कहा गया कि कोटोनोऊ में उनके सम्मान में 30 जुलाई को आयोजित भोज के दौरान राष्ट्रपति बेनिन में रह रहे भारतीय मूल के लोगों से मुलाकात करेंगे. Also Read - Dr. Rajendra Prasad: नेहरू ने मना किया, फिर भी सोमनाथ मंदिर चले गए थे राजेंद्र प्रसाद, जानें देश के पहले राष्ट्रपति की कहानी

इसके बाद वह गैम्बिया के लिए रवाना होंगे. इसमें कहा गया है कि इन दोनों देशों के अलावा वह गिनी भी जायेंगे. कोविंद इन तीनों पश्चिमी अफ्रीकी देशों का दौरा करने वाले भारत के पहले राष्ट्राध्यक्ष होंगे. विदेश मंत्रालय ने कहा कि अफ्रीकी देशों की यह यात्रा भारत के किसी भी राष्ट्राध्यक्ष अथवा सरकार प्रमुख का पहला दौरा है. राष्ट्रपति के प्रेस सचिव अशोक मलिक ने बताया कि कोविंद अबतक 20 देशों की यात्रा कर चुके हैं और इन तीन देशों की यात्रा के बाद यह संख्या बढ़ कर 23 हो जाएगी.