किन्शासा: कांगो में लंबे समय से प्रतीक्षित राष्ट्रपति चुनाव के लिए आज मतदान जारी है, वहीँ  विपक्षी दलों के दो प्रमुख उम्मीदवारों ने चुनाव की पूर्व संध्या पर शनिवार को एक शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया था जिससे इस अस्थिर देश में चुनाव के बाद हिंसा भड़कने की आशंका पैदा हो गई है.

फ्रांस में ‘Yellow Vest Protest’ जारी, मैक्रों के नीतियों के खिलाफ जुटे कई प्रदर्शनकारी हिरासत में

प्रस्ताव खारिज
मतदान से पहले तनाव बढ़ने के साथ मार्टिन फायुलू और फेलिक्स शिसेकेदी ने चुनाव के बाद हिंसा को रोकने के मकसद वाले प्रस्ताव को खारिज करते हुए कहा कि चुनाव अधिकारी इसकी विषय वस्तु में सुझाए गए बदलावों को करने में विफल रहे. उन्होंने अफ्रीकी चुनाव पर्यवेक्षकों के साथ संक्षिप्त बैठक के बाद अपने फैसले की घोषणा की. अफ्रीकी देश में मतदाता इस बात का फैसला करने के लिए रविवार को मतदान में भाग लेंगे कि राष्ट्रपति जोसफ कबीला का स्थान कौन लेगा. संसाधनों से संपन्न इस देश को वर्ष 1960 में आजादी के बाद से सत्ता के शांतिपूर्ण हस्तांतरण के लिए नहीं जाना जाता.

मिस्र में बम विस्फोट मामला: पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में 40 उग्रवादियों को मार गिराया

देश के स्वतंत्र राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने विपक्षी दलों के दो दिग्गज नेताओं और कबीला द्वारा उत्तराधिकारी चुने गए एमैनुएल रमजानी शादरी को नतीजों की घोषणा के बाद हिंसा रोकने के मकसद एक समझौते पर हस्ताक्षर के लिए मनाया था लेकिन दोनों विपक्षी नेताओं ने इससे इंकार कर दिया. (इनपुट एजेंसी)