वॉशिंगटन: इराक स्थित एक सैन्य अड्डे पर रॉकेट हमले में दो अमेरिकी और एक ब्रिटिश सैनिक की मौत हो गई, जबकि 12 अन्य घायल हो गए. हमले की जानकारी मीडिया ने गुरुवार को दी. बीबीसी ने इराक और सीरिया में अमेरिकी नेतृत्व वाले गठबंधन के एक बयान से पुष्टि करते हुए कहा कि बगदाद के उत्तर में स्थित ताजी सैन्य शिविर पर बुधवार शाम 18 रॉकेटों से हमला किया गया था, जिसमें तीन कर्मियों की मौत हो गई. Also Read - अमेरिका में कोरोना से तीन लाख लोग संक्रमित, परेशान ट्रंप ने पीएम मोदी को फोन करके मांगी यह दवा

मृतकों में एक अमेरिकी सैनिक, ठेकेदार और ब्रिटिश सर्विस का कर्मी शामिल था. इससे पहले अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन सेना के एक प्रवक्ता के ट्वीट के हवाले से कहा कि ताजी बेस पर शाम 7:35 बजे (स्थानीय समयानुसार) छोटे रॉकेटों से हमला किया गया. उन्होंने कहा कि इस बाबत जांच शुरू कर दी गई है. हमले पर प्रतिक्रिया देते हुए ब्रिटेन के रक्षामंत्री ने कहा कि हम इराक स्थित कैंप ताज पर हुए हमले की पुष्टि करते हुए कह सकते हैं कि हम पूरी घटना से अवगत हैं. जांच चल रही है, ऐसे समय में आगे टिप्पणी करना अनुचित होगा. Also Read - कोरोना वायरस से अमेरिका में एक दिन में 1169 लोगों की मौत, 6000 के पार पहुंचा मृतकों का आंकड़ा

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने हमले को निंदनीय बताया
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक बयान में इस हमले को निंदनीय करार दिया. बीबीसी ने उनके बयान के हवाले से कहा कि ब्रिटेन के विदेश मंत्री ने अमेरिकी विदेश मंत्री से बात की है और हम इस घिनौने हमले के विवरण को पूरी तरह से समझने के लिए अपने अंतर्राष्ट्रीय सहयोगियों के साथ संपर्क बनाए हुए हैं. किसी भी आतंकी संगठन ने अभी तक हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. Also Read - कोरोनावायरस की गिरफ्त में अमेरिका, अकेले न्यूयार्क में एक हजार से अधिक लोगों की हुई मौत