मास्को: रूस ने कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर मंगलवार को कहा कि वह 20 फरवरी से सभी चीनी नागरिकों को अपने क्षेत्र में प्रवेश करने से रोक देगा. स्थानीय समाचार एजेंसियों ने यह जानकारी दी. रूस की उप प्रधानमंत्री और स्वास्थ्य मामलों की प्रभारी तातियाना गोलिकोवा ने कहा, ‘‘रूस की सीमाओं के जरिए चीनी नागरिकों के प्रवेश को 20 फरवरी से निलंबित कर दिया जाएगा.’’ उन्होंने बताया कि ये प्रतिबंध कार्य यात्रा, निजी यात्रा, अध्ययन और पर्यटन के लिए आने वाले यात्रियों पर लागू होगा. Also Read - कोरोना के भय से घर वापसी को बेताब प्रवासी मजदूर, आनंद विहार बस टर्मिनल पर जुटी हजारों की भीड़

वहीं दूसरी तरफ चीन में एक अस्पताल के निदेशक की मंगलवार को कोरोना वायरस (Corona Virus) से मौत हो गई. चीन के सरकारी मीडिया सीसीटीवी ने यह जानकारी दी. वुहान स्थित वुचांग अस्पताल के निदेशक लिउ झिमिंग की जान बचाने के सारे प्रयास विफल हो गए और उनकी मौत हो गई. लिउ से पहले कोरोना वायरस के कारण अस्पताल के निदेशक स्तर के व्यक्ति के मरने की खबर नहीं आई थी. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना वायरस से अब तक छह चिकित्सा कर्मियों की मौत हो चुकी है और 1,716 कर्मी इससे संक्रमित हैं.

लिउ की मौत की खबर सबसे पहले चीनी मीडिया और ब्लागरों ने मंगलवार आधी रात के बाद दी थी लेकिन फिर इस खबर को हटा दिया गया था. तब बताया जा रहा था कि डॉक्टर लिउ को बचाने के प्रयास में लगे हुए हैं. लिउ की मौत को वुहान के नेत्र चिकित्सक ली वेन लियांग की मौत से भी जोड़कर देखा जा रहा है.