मॉस्को: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षणों के बारे में आगाह करने वाली प्रणाली बनाने में रूस चीन की मदद कर रहा है। शीत युद्ध के समय से केवल रूस और अमेरिका के पास ऐसी प्रणालियां रही हैं जिसमें कई भू स्थित रडार और अंतरिक्षीय उपग्रह शामिल होते हैं।

यह प्रणाली अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों का जल्दी पता लगाने के लिए जरूरी होती है। पुतिन ने बृहस्पतिवार को अंतरराष्ट्रीय मामलों पर एक सम्मेलन में कहा कि रूस ऐसी प्रणाली विकसित करने में चीन की मदद करता रहा है।

साथ ही उन्होंने कहा कि, “यह बहुत जरूरी चीज है जो चीन की रक्षा क्षमता को व्यापक रूप से बढ़ाएगी।” उनके इस बयान ने दो पूर्व वामपंथी विरोधियों के बीच रक्षा सहयोग के एक नये स्तर का संकेत दिया है।

(इनपुट भाषा)