व्लादिवोस्तोक: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने ‘ग्रेट पैट्रिअटिक वार’ में विजय की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में 2020 में मॉस्को में होने वाले समारोह में शामिल होने के लिए बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रण दिया. पुतिन ने मोदी के साथ अपनी वार्ता के दौरान उनसे कहा कि हम ‘ग्रेट पैट्रिअटिक वार’ में विजय, नाजीवाद पर विजय की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में अगले साल मई में होने वाले समारोह में आपके शामिल होने की उम्मीद कर रहे हैं.

 

रूसी राष्ट्रपति ने उल्लेख किया कि नवंबर में होने वाले ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) शिखर सम्मेलन में भी मोदी से मिलने की उनकी योजना है. सरकार संचालित समाचार एजेंसी तास ने खबर दी कि पुतिन ने कहा कि उन्होंने बुधवार को मोदी के साथ आमने-सामने की बैठक की और न्यू ज्वेज्दा शिपयार्ड तक एक नौका में सवार होकर तथा वापसी में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. रूसी राष्ट्रपति ने रूस के सुदूर पूर्वी बंदरगाह शहर व्लादिवोस्तोक में ‘ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम’ में शामिल होने के लिए भारतीय प्रधानमंत्री का धन्यवाद व्यक्त किया.

रूस में PM मोदी का जोरदार स्वागत, पुतिन ने कहा- ‘हमारी बात होती रहती है, यहां वेलकम करना मेरा सौभाग्य’

पुतिन ने कहा कि व्यापार, निवेश और औद्योगिक क्षेत्र, सैन्य तथा तकनीकी संबंधों, शिक्षा तथा संस्कृति सहित द्विपक्षीय दस्तावेजों के एक ठोस पैकेज पर सहमति बनी. उन्होंने उल्लेख किया कि इस बैठक से पहले मंत्रियों, एजेंसियों और कारोबारी हस्तियों ने एक उत्कृष्ट जमीनी खाका तैयार किया. उन्होंने जोर देकर कहा कि रूस और भारत वैश्विक मंच पर एक-दूसरे का समर्थन करते हुए सक्रियता से काम कर रहे हैं. पुतिन ने उल्लेख किया कि अंतरराष्ट्रीय एजेंडे के अनेक महत्वपूर्ण मुद्दों पर हमारी स्थितियां एक-दूसरे के करीब हैं या एक-दूसरे से मेल खाती हैं. (इनपुट एजेंसी)