मॉस्को :  इजराइल और ईरान के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनजर रूस ने दोनों देशों से अपील की है कि वो किसी भी तरह कि उकसावे वाली कार्रवाई से दूर रहें. रूस के आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि रूस सरकार दोनों देशों से उम्मीद करती है अब वो किसी भी तरह की उकसावे वाली गतिविधियों से दूरी बनाए रखेंगे. रूस के राष्ट्रपति कार्यालय के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने संवादादा सम्मेलन में कहा कि मॉस्को बढ़ रहे तनाव से चिंतित है और सभी पक्षों से अपील करता है कि माहौल ठीक रखे. प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने ये भी कहा कि मौजूदा समस्याओं के समाधान के लिए वो राजनीतिक और कूटनीतिक माध्यमों का सहारा लेंगे.

दोनों देशों के एक दूसरे के ठिकानों पर मिसाइल हमले के बाद बढ़ा तनाव

रूस के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, इजरायल ने 28 एफ-15 और एफ-16 विमानों का इस्तेमाल कर लगभग 60 मिसाइलें दागी थी और सीरिया में ईरान के ठिकानों को निशाना बनाकर लगभग 10 मिसाइलें दागीं. इजरायल द्वारा ईरान के परमाणु कार्यक्रमों से संबंधित दस्तावेजों को जारी करने के बाद इजरायल और ईरान के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया है. इससे पहले रूस के विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोव ने कहा कि रूस बातचीत के जरिए संघर्ष के समाधान की पैरवी करता है. उन्होंने कहा कि रूस ने ईरान और इजरायल दोनों से संपर्क साधकर आपसी उकसावे वाली गतिविधियों से दूर रहने की जरूरत पर जोर दिया है.
( इनपुट एजेंसी ) Also Read - स्पुतनिक-5 के बाद रूस ने एक और कोविड-19 वैक्सीन को मंजूरी दी: व्लादिमीर पुतिन

Also Read - संघर्ष विराम को राजी होने के कुछ ही मिनट के बाद अर्मेनिया और अजरबैजान ने एक दूसरे पर इसके उल्लंघन का आरोप लगाया

Also Read - फूंक मारो, 50 सेकंड में हो जाएगी जांच, जल्‍द आ रही भारत- इजराइल की ऐसी COVID-19 Testing Kit