अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए पार्टी की उम्मीदवारी हासिल करने की चुनावी लड़ाई में टक्कर बनी हुई है। 15 मार्च के सुपर ट्यूजडे की चुनावी लड़ाई से पहले रिपब्लिकन दावेवार मार्को रुबियो और डेमोक्रेट बर्नी सैंडर्स ने क्रमश: प्युएटरे रिको और मेन में जीत हासिल की है। इस तरह उम्मीदवारी पाने की कड़ी प्रतिस्पर्धा दोनों ही दलों में बनी हुई है।फ्लोरिडा के सीनेटर रुबियो की रिपब्लिकन पार्टी की उम्मीदवारी की दौड़ में यह दूसरी जीत है। हालांकि, इस लड़ाई में रियल एस्टेट व्यवसायी डोनाल्ड ट्रंप और टेक्सस के सीनेटर टेड क्रूज उनसे बहुत आगे हैं। लेकिन, इस जीत ने उनके मैदान में बने रहने के औचित्य को साबित किया है।रुबियो को साउथ कैरोलिना के भारतीय मूल की अमेरिकी गवर्नर निक्की हेली, लुसियाना के पूर्व भारतीय-अमेरिकी गवर्नर बॉबी जिंदल और रिपब्लिकन नेतृत्व का समर्थन प्राप्त है। अब वह सुपर ट्यूजडे को अपने गृह राज्य फ्लोरिडा में जीत का इंतजार कर रहे हैं।ट्रंप अब तक हुए 19 मुकाबलों में 12 में जीत हासिल कर चुके हैं। वह 99 प्रतिनिधियों वाले फ्लोरिडा में भी सर्वेक्षणों में रुबियो से काफी आगे हैं।यह भी पढ़े:अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव लड़ेंगे रिपब्लिकन सीनेटर मार्को रुबियो

क्रूज को शनिवार को मिली दो राज्यों की जीत के साथ वह अब तक छह राज्यों में जीत हासिल कर चुके हैं। ओहियो के गवर्नर जॉन कासिच को अभी एक भी राज्य में जीत हासिल नहीं हुई है। उनके अपने राज्य में 15 मार्च को चुनाव होना है।डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवारों पर नजर डालें तो सैंडर्स ने नेब्रास्का और कांसास में जीत के बाद मेन के कॉकस में जीत हासिल करके गत सात दिनों में तीसरी जीत हासिल की है। दूसरी ओर हिलेरी क्लिंटन को लुसियाना में विजय मिली है।डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवारों की मिशिगन के फ्लिंट में रविवार को सीएनएन पर हुई बहस के दौरान हिलेरी क्लिंटन और बर्नी सैंडर्स के बीच ऑटो उद्योग को मिले ‘बेलआउट’, हथियार रखने और वाल स्ट्रीट से रिश्ते को लेकर जमकर कहासुनी हुई।सैंडर्स ने जोर देते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था मध्य वर्ग और कामकाजी वर्गो के खिलाफ है। उन्होंने आरोप लगाया कि इसे हिलेरी क्लिंटन जैसे राजनेताओं व वाल स्ट्रीट में पूंजी लगाने वालों के बीच नजदीकी रिश्ता बनाकर कर और उकसाया गया है।

उन्होंने हिलेरी पर ‘विनाशकारी व्यापार नीतियों’ का समर्थन करने का आरोप लगाया जिनकी वजह से अमेरिका का कॉरपोरेट जगत फ्लिंट जैसे शहर से निर्माण उद्योगों को मध्य अमेरिका और एशिया के कम मजदूरी वाले देशों तक ले जा सका है।सैंडर्स ने वित्तीय उद्योग से रिश्ते को लेकर हिलेरी क्लिंटन पर बार-बार निशाना साधा। साथ ही मांग की कि वह वाल स्ट्रीट की कंपनियों में पैसे लेकर दिए गए भाषण की प्रति जारी करें।हिलेरी क्लिंटन ने जवाब में कहा कि वह ऐसा तब करेंगी जब रिपब्लिकन सहित अन्य उम्मीदवार भी ऐसा करने को राजी होंगे।हिलेरी ने कहा कि जलवायु परिवर्तन से मुकाबले के लिए उनके पास सबसे व्यापक योजना है। उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री के रूप में उन्होंने राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ चीन और भारत सहित अन्य देशों पर दबाव बनाने के लिए काम किया ताकि वे पेरिस के वैश्विक जलवायु समझौते में शामिल हों।दोनों उम्मीदवारों ने रिपब्लिकन उम्मीदवार से मुकाबले के लिए खुद को सबसे अच्छा संभावित उम्मीदवार बताया।