वाशिंगटन: वाशिंगटन पोस्ट के लापता पत्रकार जमाल खागोशी को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सऊदी अरब को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि पत्रकार जमाल खाशोगी के लापता होने में सऊदी अरब का हाथ हुआ तो अमेरिका उस पर सख्त कार्रवाई करेगा. Also Read - Crude oil price: सऊदी अरब ने किया कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती का वादा, 11 महीने के उच्च स्तर पर पहुंचा कच्चा तेल

Also Read - मीडिया पर भड़के Donald Trump, कहा-सबसे ज्यादा खूबसूरत है मेरी पत्नी मेलानिया, क्यों किया भेदभाव

लापता पत्रकार मामला: ट्रंप करेंगे किंग सलमान से वार्ता, कहा- हत्या के लिए माफी नहीं Also Read - थलसेना प्रमुख जनरल नरवणे यूएई, सऊदी अरब के लिए रवाना हुए, जानिए क्यों अहम है ये यात्रा

कोई सुराग नहीं मिला

समाचार एजेंसी AFP के मुताबिक, ट्रंप ने सीबीएस शो पर लेस्ले स्थाल के शो ’60 मिनट्स’ में यह बयान दिया. बता दें कि सऊदी मूल के वाशिंगटन पोस्ट में कार्यरत लापता पत्रकार जमाल खाशोगी सऊदी अरब के शाही परिवार के कटु आलोचक रहे हैं. वह क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की नीतियों के मुखर आलोचक हैं. गत दो अक्टूबर को जमाल खागोशी इस्तांबुल में सऊदी दूतावास अपनी शादी के लिए जरूरी दस्तावेज लाने गए थे उस समय उनकी मंगेतर बाहर उनका इन्तजार कर रही थीं लेकिन उसके बाद से ही वो लापता हो गए.

खाशोगी की हत्या का वॉशिंगटन पोस्ट ने किया दावा, सऊदी अरब ने कहा निराधार है आरोप !

सऊदी अरब का आरोपों से इंकार

तुर्की के जांचकर्ताओं ने आशंका जाहिर की है कि दूतावास के भीतर ही उनकी हत्या कर शव को वहीं ठिकाने लगा दिया गया. हालांकि, सऊदी अरब ने इन आरोपों को खारिज किया है. हालांकि ट्रंप ने कहा है कि सऊदी अरब के दोषी पाए जाने पर अमेरिका, सऊदी अरब को हथियार बेचना बंद नहीं करेगा. ट्रंप कहते हैं, मैं अमेरिका में 110 अरब डॉलर के निवेश को बंद करने के कॉन्सेप्ट में यकीन नहीं करता क्योंकि हमें पता है कि वे क्या करने जा रहे हैं. वे उस पैसे को लेकर रूस और चीन में खर्च करेंगे. (इनपुट एजेंसी)

सऊदी अरब ने अपने दूतावास में वाशिंगटन पोस्ट के पत्रकार की हत्या के आरोपों को बताया ‘निराधार’