काहिरा: सऊदी अरब में बदलाव की बयार चल रही है. सऊदी में  जेद्दा की सड़कों पर गुरुवार को एक अद्भुत नजारा देखने को मिला. यहां महिला दिवस को कुछ महिलाओं ने सड़कों पर दौड़कर मनाया. इस दौड़ को एक बदलाव के रूप में भी देखा जा सकता है. खास बात ये रही कि इस मैराथन में बुर्का पहनकर ही महिलाओं ने दौड़ लगाई.बता दें कि इससे पहले महिलाओं को इस तरह के  विशेषाधिकार नहीं दिए गए थे.

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब में महिलाओं को मिली ड्राइविंग की इजाजत

बता दें कि इससे पहले रविवार को सऊदी में पहली बार महिलाओं के लिए मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया. इसे सऊदी अरब के आधुनिकीकरण और खेलों के लिए महिलाओं को प्रोत्साहन देने के लिए एक अहम कदम माना जा रहा है. स्थानीय मीडिया के मुताबिक रविवार को यहां के अल-अहसा प्रांत में आयोजित इस दौड़ में सैकड़ों महिलाओं ने हिस्सा लिया. इनमें से कई महिलाओं ने पारंपरिक इस्लामी पोशाक में ही दौड़ लगाई.

मैराथन की देखरेख कर रहे मलिक अल-मूसा के हवाले से अल-अरेबिया न्यूज ने बताया कि सभी को दौड़ने के लिए प्रोत्साहित करने और उनमें खेल के प्रति रुचि जगाने के लिए यह दौड़ आयोजित की गई थी. इससे पहले फरवरी में सऊदी अरब की राजधानी रियाद में पहली अंतरराष्ट्रीय हाफ-मैराथन दौड़ आयोजित की गई थी.

हाल के समय में रूढ़ीवादी परंपराओं को तोड़ते हुए सऊदी अरब में कुछ महिलाओं के पक्ष में फैसले लिए गए जिसमें महिलाओं पर ड्राइविंग प्रतिबंध हटाना, पुरुष फुटबॉल मैच देखने के लिए स्टेडियम में प्रवेश करने की इजाजत और सऊदी हवाईअड्डे पर हवाई यातायात नियंत्रण में महिलाओं के लिए 140 नौकरियां निकालने जैसे फैसले शामिल हैं.