Sputnik Single Dose Corona Vaccine: देश में जारी कोरोना के कहर के बीच रूस से एक अच्छी खबर सामने आई है. रूस ने एक ऐसा वैक्सीन बनाया है जिसका एक डोज ही कोरोना वायरस का काम तमाम कर देगा. जी हां… Sputnik V का लाइट वर्जन को रूस में मजूरी मिल गई है. Sputnik V लाइट वर्जन का सिर्फ एक डोज ही लेने की जरूरत है. Sputnik V का लाइट वर्जन सिंगल डोज कोरोना वैक्सीन 80 फीसदी तक प्रभावी है. इम महामारी के चरण को कम करने में यह वैक्सीन ज्यादा प्रभावकारी साबित हो सकता है.Also Read - कोरोना से जंग होगी और तेज! DCGI ने सिंगल डोज रूसी वैक्सीन Sputnik Light के इमरजेंसी इस्तेमाल की दी इजाजत

रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (RDIF) ने घोषणा की कि उसने सिंगल शॉट वाले इस ‘स्पुतनिक लाइट (Sputnik Light) वैक्सीन के उपयोग को अधिकृत किया है. अधिकारियों ने बताया कि स्पूतनिक वैक्सीन के लाइट वर्जन से टीकाकरण को गति मिलेगी और महामारी को फैलने से रोकने में यह तेजी से मदद करेगा. Also Read - Vaccine Update: कोरोना से जंग होगी और तेज! भारत में सिंगल डोज रूसी Sputnik Light वैक्सीन दिसंबर तक होगी लॉन्च

Also Read - डॉ रेड्डीज लेबेरेटरीज को नहीं मिली भारत में स्पुतनिक लाइट के थर्ड फेज के ट्रायल की अनुमति: सूत्र

RDIF के अनुसार, रूस के गमलेया संस्थान द्वारा विकसित वैक्सीन COVID-19 के मुकाबले 79.4 प्रतिशत तक प्रभावी है. स्पुतनिक लाइट की कीमत $10 प्रति खुराक से कम होगी और इसे निर्यात के लिए रखा गया है.

RDIF की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया, सिंगल डोज स्पुतनिक लाइट वैक्सीन ने 5 दिसंबर 2020 से 15 दिसंबर 2021 के बीच रूस के सामूहिक टीकाकरण कार्यक्रम के हिस्से के रूप में इंजेक्शन के 28 दिनों बाद लिए गए विश्लेषण के अनुसार 79.4 प्रतिशत प्रभावकारिता का प्रदर्शन किया.

उधर, ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की खबर में बताया गया है कि अगले दो दिनों में Sputnik V Vaccine की दूसरी खेप भारत पहुंच जाएगी. इस खेप में कुल 150,000 टीके होंगे. इसके अलावा, मई के अंत तक तीन मिलियन टीकों के हैदराबाद पहुंचने की उम्मीद है. रूस ने भारत को अगले महीने तक पांच मिलियन और जुलाई में 10 मिलियन से अधिक वैक्सीन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है.