कोलंबो: श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने शुक्रवार को अंतरिम मंत्रिमंडल की नियुक्ति की, जो अगले संसदीय चुनाव तक सरकार का संचालन करेगा. मंत्रिमंडल में 16 सदस्य हैं. राष्ट्रपति के भाई महिंदा राजपक्षे (74) और चमल राजपक्षे (77), दो तमिल भाषी और एक महिला इसमें शामिल हैं.

 

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान गोटबाया राजपक्षे ने कहा कि यह एक अंतरिम सरकार है. उन्होंने बताया कि राज्यमंत्रियों की नियुक्ति अगले हफ्ते की जाएगी. राष्ट्रपति होने के नाते राजपक्षे मंत्रालयों को अपने पास नहीं रख सकते हैं लेकिन वह मंत्रिमंडल के प्रमुख हैं. नए मंत्रिमंडल में प्रधानमंत्री पद पर महिंदा राजपक्षे को नियुक्त किया गया है. उन्हें रक्षा मंत्रालय और वित्त मंत्रालय का भी प्रभार दिया गया है जबकि चमल राजपक्षे के पास व्यापार एवं खाद्य सुरक्षा मंत्रालय का प्रभार है.

70 वर्षीय गुणवर्द्धना को विदेश मंत्री बनाया
मार्क्सवादी विचारधारा के नेता 70 वर्षीय गुणवर्द्धना को विदेश मंत्री बनाया गया है. अगला संसदीय चुनाव अगस्त 2020 के बाद होना है. प्रधानमंत्री को केवल तब ही हटाया जा सकता है जब उन्होंने इस्तीफा दिया हो, लेकिन गोटबाया की जीत के बाद नए संसदीय चुनाव की जरूरत महसूस होने लगी है ताकि नए राष्ट्रपति अपनी सरकार का गठन कर सकें. गोटबाया वर्तमान संसद को भंग कर फरवरी 2020 के बाद समयपूर्व चुनाव करवा सकते हैं. (इनपुट एजेंसी)