वाशिंगटन: अमेरिका में मेक्सिको वाल के मुद्दे पर पिछले 2 हफ्ते से सरकारी कामकाज ठप है लेकिन इसका असर अन्य सभी के साथ नवविवाहित जोड़ों पर भी पड़ने लगा है. जी हां चौंकिए मत, वो अपनी शादी को कानूनी दर्जा नहीं दे पा रहे हैं. ऐसी ही एक कहानी ट्विटर पर साझा की है अमेरिकी नागरिक डैन पोलक और उनकी होने वाली पत्नी डेनियल ने. पोलक और उनकी होने वाली पत्नी अपनी शादी का प्रमाण पत्र लेने वाशिंगटन में ‘मैरिज ब्यूरो’ पहुंचे, लेकिन सरकारी कामकाज ठप होने के कारण उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा. अमेरिका में कई ऐसे जोड़े हैं जो सरकारी कामकाज ठप होने के कारण अपने विवाह को कानूनी दर्जा नहीं दे पा रहे हैं.

अमेरिका: डेमोक्रेट नैंसी पेलोसी प्रतिनिधि सभा की दोबारा अध्यक्ष बनीं, ट्रंप ने दी बधाई

लाइसेंस जारी नहीं
इसी सब के बीच अमेरिकी सरकार की कामबंदी 13वें दिन भी जारी रही. ट्रंप ने चेताते हुए कहा कि जब तक उन्हें अमेरिका, मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लिए धन मुहैया नहीं कराया जाएगा, तब तक कामकाज ठप रहेगा. पोलक ने कहा, ‘‘जब हम ब्यूरो पहुंचे और तो उन्होंने विनम्रता के साथ हमें लौटा दिया और कहा कि सरकारी कामकाज फिर से आरंभ होने तक लाइसेंस जारी नहीं किए जाएंगे.’’ पूर्व निर्धारित विवाह समारोह में दो ही दिन शेष होने के कारण उन्होंने विवाह कार्यक्रम में बदलाव नहीं करने का फैसला किया, लेकिन अपनी शादी को कानूनी दर्जा देने के लिए वे कामकाज शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं.

इस दंपति ने ट्विटर पर अपनी कहानी पोस्ट की है जो सरकारी कामकाज ठप होने के कारण आम लोगों को हो रही परेशानियों का एक उदाहरण है. सरकारी कामकाज जल्द फिर से शुरू होने का आसार नहीं दिखने के कारण नवविवाहित जोड़ों की चिंता बढ़ने लगी है. पोलक की ही तरह क्लेयर ओ रौरके की 12 जनवरी को शादी तय है. उन्होंने कहा, ‘‘हम विवाह करेंगे लेकिन हम चाहते हैं कि कागजी काम भी जल्द पूरा हो.’’ हालांकि वाशिंगटन के मेयर मुरियल बोजर ने कामकाज ठप होने के बावजूद विवाह लाइसेंस जारी करने के लिए असाधारण कदम उठाने की घोषाणा की है, ताकि प्रमाण पत्र जारी किए जा सकें. उनके इस कदम पर इस जोड़े ने उन्हें धन्यवाद दिया.

गौरतलब है कि अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण की ट्रंप की मांग को लेकर रिपब्लिकन एवं डेमोक्रेट्स अपने-अपने रुख पर अड़े हुए हैं. ट्रंप इस दीवार के लिए 5.6 अरब डॉलर की निधि मांग रहे हैं और उनके मुताबिक अमेरिका में अवैध आव्रजकों के प्रवेश को रोकने के लिए इस दीवार का बनना बेहद जरूरी है. वहीं डेमोक्रेट्स का कहना है कि इस तरह का कदम उठाना “करदाताओं के धन की बर्बादी” है. हालांकि ट्रम्प इस मुद्दे पर अड़ियल रुख अख्तियार किए हुए हैं. (इनपुट एजेंसी)

मेक्सिको वाल पर अमेरिकी सरकार में रार, संसदीय कामकाज अगले हफ्ते भी ठप रहने की आशंका

दुनिया की अन्य खबरें पढने के लिए क्लिक करें