Also Read - कश्मीर में भारत 22 अक्टूबर को मनाएगा 'काला दिवस', 1947 में पाकिस्तान ने घाटी में कराई थी हिंसा

इस्लामाबाद, 24 नवंबर| पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान ने रविवार को कहा कि 30 नवंबर को इस्लामाबाद में होने वाली पार्टी की रैली में पाकिस्तान के लोगों को अपने अधिकारों के लिए खड़े होना चाहिए। समाचार पत्र ‘डॉन’ की वेबसाइट के मुताबिक, क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान ने रविवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश के लोगों ने सत्तारूढ़ सरकार को खारिज कर दिया है और जनता बदलाव चाहती है। Also Read - पाकिस्तान में मचा सियासी घमासान- आमने सामने आई सेना और पुलिस, छुट्टी पर चले गए अधिकारी

पीटीआई प्रमुख ने कहा कि लोगों में काफी राजनैतिक जागरुकता है और उन्होंने यथास्थिति को अस्वीकार कर दिया है। उन्होंने कहा, “जब देश के युवा और महिलाएं बदलाव की ठान लेते हैं, तो दुनिया की कोई ताकत देश को बदलने से नहीं रोक सकती।” पीटीआई प्रमुख ने कहा कि पूरा देश अब प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के इस्तीफे की मांग कर रहा है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने 2013 के आम चुनावों के दौरान पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) द्वारा की गई धांधली का पर्दाफाश कर दिया है। Also Read - आतंकियों को पनाह देना अब पाकिस्तान को पड़ेगा भारी, ग्रे लिस्ट से ब्लैक लिस्टेड भी हो सकता है

इमरान ने कहा कि चुनाव धांधली को लेकर अगले रविवार वह नए खुलासे करेंगे। उन्होंने कहा कि जब तक नवाज शरीफ इस्तीफा नहीं देते, तब तक विरोध प्रदर्शन जारी रहेंगे। पीटीआई प्रमुख ने बताया, “मैं आपको बता रहा हूं, जब तक शरीफ इस्तीफा नहीं देते मैं चुप बैठने वाला नहीं हूं।”

हालांकि, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पीटीआई की जल्द चुनाव कराने की मांग को खारिज करते हुए शनिवार को कहा था कि देश में वर्ष 2018 से पहले चुनाव नहीं होंगे।