काबुल: तालिबान ने उत्तरी अफगानिस्तान से बसों के एक काफिले को घेरकर उनमें सवार 150 से अधिक लोगों को बंधक बना लिया. इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं. प्रांत के अधिकारियों ने यह जानकारी दी. अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने इस हफ्ते ईद के मौके पर तालिबान के साथ सशर्त संघर्षविराम की घोषणा की थी. इसके बावजूद तालिबान ने लोगों को बंधक बनाया. नजदीकी तकहर प्रांत के पुलिस प्रमुख अब्दुल रहमान अक्ताश ने बताया कि अगवा किए गए यात्री बादख्शान और ताकहर प्रांत से हैं, वह राजधानी काबुल जा रहे थे.

Ghazni Attack: गजनी पर तालिबानी हमले को लेकर पाक-अफगानिस्तान में ठनी

लोगों को कुंदूज प्रांत से अगवा किया गया है, इस इलाके पर हाल में तालिबान ने कब्जा किया है. अगवा लोगों के साथ क्या किया गया है यह अभी तक पता नहीं चल सका है, क्योंकि आतंकवादियों की ओर से इस बारे में कोई बयान जारी नहीं किया गया है. अयूबी के मुताबिक उनका मानना है कि तालिबान ऐसे सरकारी कर्मचारियों या सुरक्षा बलों के सदस्यों की तलाश में है जो अवकाश के दिनों में आमतौर पर घर जाते हैं.

अफगानिस्तान में भीषण लड़ाई में सुरक्षाबलों के 100 जवानों की मौत, 194 तालिबानी लड़ाके ढेर

हाल के वर्षों में तालिबान ने फिर से सिर उठाया है और वह पूरे अफगानिस्तान में सभी इलाकों पर कब्जा जमाने की फिराक में है. आतंकी समूह बड़े पैमाने पर बम हमलों को अंजाम दे रहा है जिनमें बड़ी संख्या में लोग मारे गए हैं. कुंदूज में प्रांतीय परिषद के प्रमुख मोहम्मद युसूफ अयूबी ने बताया कि आतंकियों ने खान अब्द जिले के निकट एक सड़क पर तीन बसों को रोका और यात्रियों को अपने साथ जाने पर विवश किया.