वॉशिंगटन: मृतक अमेरिकी छात्र ओट्टो वार्मबीयर के परिवार ने उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन की प्रशंसा करने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से नाराजगी जताते हुए उनकी निंदा की है. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, ओट्टो वार्मबीयर के माता-पिता फ्रेड और सिंडी वार्मबीयर ने कहा कि ‘कोई भी बहाना या प्रशंसा इस तथ्य को नहीं बदल सकता कि किम और उनके दुष्ट प्रशासन’ ने उनके 22 वर्षीय बेटे की हत्या की है.


सच को बदला नहीं जा सकता
ट्रंप और किम के बीच दो-दिवसीय बैठक बिना किसी समझौते के समाप्त होने के बावजूद ट्रंप ने किम की बढ़-चढ़ कर प्रशंसा की है, जिसके बाद ओट्टो के माता-पिता का यह बयान आया है. ट्रंप ने गुरुवार को ओट्टो की मौत का जिक्र करते हुए हनोई में संवाददाताओं से कहा, “उन्होंने मुझसे कहा कि वह (किम) इसके बारे में कुछ नहीं जानते और मैं उनकी इस बात पर भरोसा करता हूं.”

‘जिहाद के युवराज’ का पता बताने वाले को अमेरिका देगा इतने करोड़ का इनाम

ट्रंप ने साथ ही कहा कि किम को इस मामले को लेकर ‘बहुत बुरा’ लगा. गुरुवार को बाद में फॉक्स न्यूज में प्रकाशित एक साक्षात्कार में ट्रंप ने कहा कि किम ‘बेहद तेज तर्रार हैं और एक सच्चे नेता हैं. उन्होंने कहा- कुछ लोगों का कहना है कि मुझे उन्हें पसंद नहीं करना चाहिए. मुझे उन्हें क्यों नहीं पसंद करना चाहिए? ओट्टो के परिवार ने शुक्रवार को किम की सराहना करने को लेकर ट्रंप का नाम लिए बिना उनकी निंदा की. उन्होंने कहा- किम और उनका दुष्ट प्रशासन ही हमारे बेटे की मौत के लिए जिम्मेदार है. अकल्पनीय बर्बरता और अमानवीयता के लिए जिम्मेदार हैं. कोई भी बहाना या अपार सराहना इसे बदल नहीं सकती.

नार्थ कोरिया से संबंध बेहतर करने की कवायद, साउथ कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास बंद करेगा अमेरिका