सिडनी: ऑस्ट्रेलिया में सदी की सबसे भयानक बाढ़ के कारण नदियों का पानी सड़कों पर आ गया और जिससे उत्तरपूर्वी हिस्से में हजारों लोगों को अपने घरों से विस्थापित होना पड़ा. अधिकारियों ने अगले कुछ दिनों में और बारिश का अनुमान जताया है. ऑस्ट्रेलिया के उत्तरी हिस्से में मानसून के समय भारी बारिश होती है लेकिन हाल ही में हुई वर्षा सामान्य स्तर से अधिक है.


उत्तरपूर्वी क्वींसलैंड के टाउंसविले शहर में हजारों निवासी बिना बिजली के रह रहे हैं और अगर बारिश जारी रही तो 20 हजार से अधिक मकानों के जलमग्न होने का खतरा है. सैन्य कर्मी प्रभावित लोगों की मदद के लिए मिट्टी व बालू से भरी हजारों बोरियां दे रही है जिससे कि वो पानी को घुसने से रोक सकें. क्वींसलैंड की प्रमुख ने शनिवार को पत्रकारों से कहा, ‘‘यह मूल रूप से 20 साल में एक बार नहीं बल्कि 100 साल में एक बार होने वाली घटना है.’’ मौसम विज्ञान ब्यूरो ने बताया कि उत्तरी क्वींसलैंड राज्य के ऊपर धीमी गति से आगे बढ़ रहा मानसून का कम दबाव का क्षेत्र बन गया है जिससे कुछ इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका है जितनी एक साल में नहीं हुई. टाउंसविले के निवासी क्रिस ब्रूकहाउस ने कहा, ‘‘मैंने पहले कभी ऐसा कुछ नहीं देखा.’’ (एजेंसी इनपुट)

ग्वाटेमाला, मेक्सिको व इंडोनेशिया में भूकंप के झटके, हजारों लोगों को सुरक्षित निकला गया