वॉशिंगटन: व्हाइट हाउस ने न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार की उस रिपोर्ट को खारिज किया जिसमें कहा गया था कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पास तीन सेलफोन हैं. व्हाइट हाउस ने कहा कि ट्रंप के पास सिर्फ एक सरकारी आईफोन है, जिसे सुरक्षित रखने के लिए उच्चतम सुरक्षा मानकों का पालन किया जाता है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की फोन पर होने वाली बातचीत को सुनते हैं ‘चीन व रूस’: रिपोर्ट

ट्रम्प ने कहा- फर्जी खबर
खुफिया एजेंसियों के हवाले से अखबार ने बुधवार को खबर दी थी कि चीन और रूस ट्रंप की फोन पर होने वाली बातचीत सुनते हैं, क्योंकि वह ‘‘गपशप’’ के लिए अपने असुरक्षित सेलफोन का इस्तेमाल करते हैं. ट्रंप ने न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट को ‘‘फर्जी खबर’’ करार दिया और कहा कि वह कभी-कभार ही अपने सेलफोन का इस्तेमाल करते हैं साथ ही उन्होंने अखबार का मजाक उड़ाते हुए कहा फाईनली उन्होंने चाइना का भी नाम ले ही लिया. वहीँ न्यूयॉर्क टाइम्स का कहना है कि वह अपनी खबर पर कायम है. ट्रंप ने ट्वीट और व्हाइट हाउस ने देर रात एक बयान के जरिए अखबार की खबर की प्रामाणिकता को चुनौती दी.

बयान पर कायम
अज्ञात सरकारी अधिकारियों के हवाले से अखबार ने दावा किया था कि राष्ट्रपति के पास दो सरकारी आईफोन हैं जिनमें राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) ने कुछ बदलाव किए हैं ताकि इन फोन में न्यूनतम खामियां रहें. खबर के मुताबिक, ट्रंप के पास एक तीसरा निजी आईफोन भी है जो दुनिया भर में इस्तेमाल किए जा रहे करोड़ों आईफोन से अलग नहीं है.

न्यूयॉर्क टाइम्स ने दोहराया कि ट्रंप जब इन सेलफोनों से अपने दोस्तों से बातचीत करते हैं तो चीन और रूस उनकी बातें सुनते हैं. व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव हॉगन गिडली ने बताया, ‘‘न्यूयॉर्क टाइम्स द्वारा लिखे गए आलेख में राष्ट्रपति के सेलफोन और इसके इस्तेमाल के बारे में गलत सूचनाएं दी गई हैं. राष्ट्रपति के पास तीन सेलुलर फोन नहीं हैं. उनके पास एक ही सरकारी आईफोन है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह फोन सुरक्षा के उच्चतम मानकों का पालन करता है. उद्योग साझेदारों की सिफारिशों के साथ इसका प्रबंधन सरकारी निगरानी में किया जाता है.’’ (इनपुट भाषा)

वारसॉ सुरक्षा फोरम: रक्षा विशेषज्ञ ने अगले 15 वर्ष में चीन-अमेरिका वॉर की जताई आशंका !