थेरेसा मे के रूप में ब्रिटेन को दूसरी महिला प्रधानमंत्री मिल गई है। बुधवार रात को थेरेसा ने डेविड कैमरन की जगह यूके की सत्ता सँभाल ली। 10 डाउनिंग स्ट्रीट पर कैमरन का विदाई समारोह आयोजित किया गया। कैमरन ने सांसदों को संबोधित किया। सत्ता सँभालने के बाद थेरेसा मे ने मीडिया के जरिए लोगों को संबोधित किया। 59 साल की थेरेसा ब्रिटेन की 76 प्रधानमंत्री और दूसरी महिला प्रधानमंत्री हैं। इससे पहले लौह महिला मार्गरेट थैचर ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थीं।

यह भी पढ़ेंः

थेरेसा मे का नजरिया कैमरन से अलग
थेरेसा मे की राजनीतिक सोच कैमरन से थोड़ी अलग है। वे यूरोपीय संघ की आलोचक हैं। उन्होंने सत्ता सँभालते ही मंत्रिमंडल में फेरबदल कर दिया। ब्रिटेन को यूरोपीय संघ से अलग करने का कैंपेन चलाने वाले सबसे बड़े नेता बोरिस जॉनसन को विदेश मंत्री बनाया गया है। इसके अलावा अंबर रूड और जस्टीन ग्रीनिंग को भी अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है। वित्त मंत्रालय का कार्यभार भी जार्ज ऑस्बार्न से लेकर फिलिप हेमंड को दे दिया गया है।

यह भी पढ़ेंः

कौन हैं थेरेसा?
थेरेसा मे ब्रिटेन में कंजरवेटिव पार्टी की नेता हैं। 1 अक्टूबर 1956 को जन्मीं थेरेसा पहली बार 1997 में सांसद चुनी गई थी। थेरेसा की तुलना ब्रिटेन की पहली महिला प्रधानमंत्री और लौह महिला मार्गरेट थैचर से की जा रही है। थेरसा को कीमती कपड़ों और ज्वैलरी का शौक है।

गौरतलब है कि ब्रेक्जिट के जनमत के बाद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कैमरन ने इस्तीफा देने की बात कही थी। 24 जून को कैमरन के इस्तीफे के बाद थेरेसा मे ने प्रधानमंत्री पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की थी। उन्होंने बड़े अंतर से सांसदो का समर्थन पाया। इसके बाद थेरेसा पीएम बन गई।

कैमरन ने अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ नए किराए के घऱ में शिफ्ट हो गए हैं। उन्होंने 10 डाउनिंग स्ट्रीट के अपने संबोधन में कहा कि वे आखिरी बेंच से नजर बनाए रखेंगे। उन्होंने थेरेसा को सलाह दी कि यूरोपीय संघ से नजदीकी बरकरार रखे। कैमरन ने अपना इस्तीफा महारानी एलिजाबेध को सौंपा।