इस्लामाबाद: पाकिस्तान सरकार सेना प्रमुख जनरल क़मर जावेद बाजवा को तीन साल का सेवा विस्तार देने के लिए सोमवार को एक क़ानून को अंतिम रूप देने के करीब पहुंच गई. इससे पहले संसदीय समिति ने सेना प्रमुखों के कार्यकाल से जुड़े विधेयकों को सर्वसम्मति से मंजूरी दी थी. रक्षा मंत्री परवेज खट्टक ने मीडिया को बताया कि नेशनल असेंबली की रक्षा संबंधी स्थायी समिति ने सेना, नौसेना और वायु सेना के प्रमुखों तथा ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी के अध्यक्ष की सेवानिवृत्ति की आयु 60 से बढ़ा कर 64 वर्ष तक करने संबंधी तीन विधेयकों को सर्वसम्मति से मंजूरी दी. मंत्री ने कहा, ‘‘निकाय ने संशोधनों को सर्वसम्मति से पारित किया. मैं पूरे देश और विपक्षी दलों को बधाई देता हूं.’’

पाकिस्तान में ननकाना साहिब में तोड़फोड़ का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

वहीं इसी बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ननकाना साहिब में हाल ही में हुई तोड़फोड़ की घटना की निंदा करते हुए रविवार को कहा कि यह उनकी ‘सोच’ के खिलाफ है और उनकी सरकार का इस मामले में रुख कतई बर्दाश्त नहीं करने वाला है. गुरद्वारा ननकाना साहिब लाहौर के पास है जिसे गुरद्वारा जनम अस्थान के नाम से भी जाना जाता है. यह सिखों के प्रथम गुरू नानक देव का जन्मस्थान है.
खबरों के अनुसार, शुक्रवार को हिंसक भीड़ ने गुरद्वारे पर हमला और पथराव किया. पुलिस ने हालात पर नियंत्रण के लिए कार्रवाई की. घटना पर चुप्पी तोड़ते हुए खान ने भारत में मुस्लिमों तथा अन्य अल्पसंख्यकों पर हमले होने का आरोप लगाया और कहा कि इनके तथा ननकाना साहिब की निंदनीय घटना के बीच बड़ा अंतर है.